छपरा: कोविड टीकाकरण में मांझी प्रखंड का जिले में बेहतर प्रदर्शन, सबसे अधिक हुआ वैक्शीनेशन

0
  • जिले में अब तक 5.77 लाख से अधिक लाभार्थियों का हुआ टीकाकरण
  • टीकाकरण में बेहतर प्रदर्शन के लिए डीएम ने की सराहना

छपरा: कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी टीकाकरण अभियान में पूरे जिले में मांझी प्रखंड ने बेहतर प्रदर्शन किया है। जिले में 17 जून तक कुल 577938 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया है। वहीं मांझी प्रखंड बेहतर प्रदर्शन करते हुए टीकाकरण के मामले में जिले में पहला स्थान हासिल किया है। यहां पर 16 जनवरी से 18 जून तक 44 हजार 915 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया है। टीकाकरण में बेहतर प्रदर्शन करने पर जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामंचद्र देवरे के द्वारा मांझी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रोहित कुमार समेत सभी कर्मियों के कार्यों की सराहना की गई है। जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में कोविड-19 टीकाकरण के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। टीकाकरण में निरंतर बेहतर प्रदर्शन करने पर उन्होंने प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग एवं इस अभियान से जुड़े सभी लोगों के सामूहिक प्रयासों की सराहना की है। कहा कि सबके समन्वित प्रयासों से ही यह संभव हो पाया है और आगे भी इस कार्य को व्यवस्थित तरीके से जारी रखा जाएगा। जिले में 18 जून को 19 हजार 364 लोगों का टीकाकरण किया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

chapra me vaccination

टीकाकरण के प्रति लोगों में आयी जागरूकता

जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि टीकाकरण के प्रति जागरूकता के लिए चलाये गये अभियान की सकारात्मक तस्वीर देखने को मिल रही है। अब टीकाकरण के लिए लोग बेझिझक केंद्र पर पहुंच रहे हैँ। जागरूकता अभियान में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व जनप्रतिनिधि, धर्म गुरुओं के साथ मीडिया की भी अहम भूमिका है। ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण को लेकर विभिन्न तरह की अफवाहें फैली कि लोग टीका लेने से कतराने लगे थे। अब परिस्थिति बिलकुल ही अलग देखने को मिल रही है । ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण केंद्रों पर लोगों की भीड़ दिख रही है।

स्वास्थ्यकर्मियों ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

मांझी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रोहित कुमार ने कहा कि गांव में 45 वर्ष से अधिक के नागरिकों और 18 से 44 वर्ष के युवाओं को टीके के प्रति जागरूक करने में स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों और जागरूकता दल ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अपनी लगातार कोशिशों से वे ग्रामीणों को समझाने में कामयाब रहे कि कोरोना से बचने के लिए अभी टीका ही सबसे प्रभावी उपाय है।

टीकाकरण अभियान में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण

सिविल सर्जन डॉ. जर्नादन प्रसाद सुकुमार ने कहा कि जिले में अब 18 से 44 उम्र के 123992 लाभार्थियों को पहला डोज तथा 5872 लाभार्थियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। कोरोना से बचाव के लिए हर व्यक्ति स्वयं को अपनी सुरक्षा कवच बनाएं | इसके लिए हर नागरिक को सजग और जागरूक रहना होगा। अब सरकार ने 18 साल के ऊपर के सभी लोगों के लिए टीकाकरण शुरू कर दिया है। इसलिए टीकाकरण के महत्व को युवा पीढी तक पहुंचाना आवश्यक है। जनजागरूकता से ही हम कोरोना पर विजय प्राप्त कर सकते हैं। इसमें युवाओं की बहुत बड़ी भूमिका हो सकती है।