छपरा: अब अस्पतालों व स्वास्थ्य संस्थानों में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर लगी रोक

0
  • मरीज व चिकित्सकों के अलावा बाहरी व्यक्तियों को नहीं मिलेगी एंट्री
  • स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने जारी किया निर्देश
  • कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर की गयी पहल

छपरा: जिले में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। संक्रमण की रोकथाम को लेकर कई निर्णय लिये जा रहे हैं । अब जिले के सदर अस्पताल समेत अन्य स्वास्थ्य संस्थानों में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गयी है। चिकित्सकों, कर्मियों एवं मरीजों के अलावा किसी भी व्यक्ति को अस्पताल में प्रवेश (एंट्री) करने की अनुमति नहीं है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने पत्र जारी कर सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। जारी पत्र के माध्यम से कहा गया है कि कोविड-19 संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए चिकित्सक की विशेष व्यवस्था की गई है, जहाँ पर मरीजों, चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मी के अलावा किसी भी बाहरी व्यक्ति का प्रवेश पूर्णतः वर्जित है। जहाँ तक अस्पतालों में इलाजरत मरीजों के अटेंडेंट का प्रावधान है, उनके संबंध में पूर्व से भी निर्देश निर्गत किए गए हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.45 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.42 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.43 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM (2)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.42 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.43 PM

कोविड मरीज के परिजनों के लिए विशेष व्यवस्था

डेडिकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में कार्यरत सभी अस्पतालों में मरीजों के अटेंडेंट इलाजरत स्थान या भवन के बाहर रहते हैं। जिनके लिए सभी जगह विशेष व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। निर्देश दिया गया है कि इस व्यवस्था के तहत इन्हें मरीजों के स्वास्थ्य संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने, बैठने, पेयजल इत्यादि की व्यवस्था को सुलभ कराना है| उचित होगा कि अस्पताल में संचालित कैंटीन में इस प्रकार की व्यवस्था की जाए कि कोरोना संक्रमित मरीजों के परिजनों को भी भुगतान के आधार पर भोजन आदि उपलब्ध हो जाए।

नियमों का उल्लंघन करने पर कार्रवाई

प्रधान सचिव ने निर्देश दिया है कि बाहरी व्यक्तियों के आवागमन से एकतरफ संक्रमण बढ़ने की संभावना बढ़ती है तो दूसरी तरफ इलाज से संबंधित कार्यों में बाधा पहुंचती है। यह सुनिश्चित करें कि किसी भी बाहरी व्यक्ति को कोविड अस्पताल में प्रवेश न करने दिया जाए। उल्लंघनकर्ताओं के विरूद्ध कठोर प्रशासनिक कार्रवाई सुनिश्चत की जाए।

इन मानकों का करें पालन

  • मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें
  • लक्षण महसूस होने पर कोविड-19 जाँच कराएं
  • जरूरी नहीं हर सर्दी-खांसी कोरोना ही है, इसलिए, निर्भीक होकर सकारात्मक

सोच के साथ कराएं जाँच

  • अधिक जरूरी पड़ने पर ही घर से बाहर निकलें
  • घर में सकारात्मक माहौल बनाएं और रचनात्मकता कार्य करें
  • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें और लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से हाथ धोएं
  • अगर अब तक आपने टीका नहीं लिया है तो टीका जरूर लें
  • टीकाकरण के प्रति दूसरों को भी प्रेरित करें
  • कोविड टीका का दोनों डोज आवश्य लें