छपरा : नर्सिंग होम के कंपाउंडर की गोली मारकर की गई हत्या , दो हिरासत में

0

छपरा : छपरा शहर के भगवान बाजार थाना अंतर्गत शिशु पार्क के समीप गुरुवार की सुबह हत्या कर फेंके गए शव को पहले अज्ञात माना जा रहा था लेकिन जैसे शिनाख्त हुई तो शव खैरा थाना क्षेत्र के कोरेया गाँव निवासी रामजी साह का 20 वर्षीय पुत्र सूरज कुमार निकला जो एक निजी नर्सिंग होम में कम्पाउंडर का कार्य करता था। उक्त हत्या गोली मारकर की गई है।जिसके बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए शिशु पार्क के समीप फेंका गया था। मृतक शहर के सहयोग नर्सिंग होम में कंपाउडर था ,जिले के खैरा थाना क्षेत्र के कोरोया गांव के रहने वाला था । पता चलने के बाद परिजन छपरा सदर अस्पताल पहुंचे और शव को देखते ही विलाप करने लगे। इस मामले में मृतक के पिता के द्वारा बताया गया कि उनका पुत्र सूरज करीब 3 वर्षों से सहयोग नर्सिंग होम में कंपाउंडर का काम करता था।जहां नर्सिंग होम के चिकित्सक एवं कंपाउंडर के द्वारा उसके पुत्र की गोली मारकर हत्या की गई है और हत्या किए जाने के बाद उसके शव को पार्क के समीप फेंक दिया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

इस मामले में उसके द्वारा सहयोग नर्सिंग होम के चिकित्सक डॉ राकेश कुमार प्रसाद एवं कंपाउंडर अंकित चौरसिया उर्फ गोलू सहित 6 खिलाफ भगवान बाजार थाने में हत्या की प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है । इस दौरान भगवान बाजार थाना पुलिस ने मामले की छानबीन करते हुए उक्त नर्सिंग होम से दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं शव का पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद उसे परिजनों को सौंप दिया गया है।पोस्टमार्टम के दौरान उसके पीठ से एक गोली बरामद की गई है। गौरतलब है कि छपरा शहर के शिशु पार्क के समीप से उस युवक का शव बरामद किया गया था। जिसके बाद यह शहर में चर्चा का विषय बना हुआ था। इस वाबत भगवान बाजार थानाध्यक्ष मुकेश झा ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है एवं नर्सिंग होम के दो कर्मचारियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।बताते चले कि मृतक रामजी साह का एकलौता पुत्र था।घर मे लोगो का रो रो कर बुरा हाल है।ग्रामीणों ने बताया कि मृतक व्यवहार कुशल लड़का था।छपरा से जब भी कभी गाँव आता था तो सबो से मिलजुल कर रहता था।