छपरा: पुजारी को बंधक बना जमकर पीटा, अष्टधातु की मूर्तियां ले भागे अपराधी

0

छपरा: मुख्यालय से सटे रिविलगंज प्रखंड के गोरिया छपरा श्मशान घाट स्थित ब्रह्मचारीघटना के विरोध में सैकड़ों की संख्या में स्थानीय लोग सड़क पर उतर गए और जमकर विरोध प्रदर्शन किया। हाजीपुर से गाजीपुर को जोड़ने वाली सड़क पर घंटों आवागमन बाधित रहा। स्थानीय थाना अध्यक्ष ओम प्रकाश चौहान ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाने की कोशिश की। मूर्तियों के गायब होने से लोगों में काफी नाराजगी थी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

मूर्ति चोरी करने वाले अपराधियों की संख्या करीब आधा दर्जन से अधिक थी और सभी अपने हाथों में हथियार लिए हुए थे। गंभीर रूप से जख्मी मुख्य महंत परशुराम दास का इलाज किया गया। ब्रह्मचारी जी मठिया से गायब मूर्तियों में श्री राम, जानकी, कृष्ण और हनुमान की मूर्ति शामिल है।

बता दें कि रिविलगंज थाना क्षेत्र में अष्टधातु की मूर्ति चोरी होने की अलग-अलग मंदिरों और मठों से करीब 4 से अधिक घटनाएं हो चुकी हैं। अब तक एक भी मूर्ति पुलिस ने बरामद नहीं की है। इसके पहले भी गौतम ऋषि मंदिर से अष्टधातु की मूर्ति चोरी हो चुकी है। जी मठिया से पुजारी व अन्य को बंधक बनाकर चार अष्टधातु की मूर्तियां अपराधी ले भागे। इस दौरान पुजारी की पिटाई भी की गई।