छपरा: कोविड टीकाकरण के प्रति जागरूकता के लिए विद्यालयों में शिक्षक-अभिभावक की होगी मीटिंग

0
  • जिले में 12 से 14 साल के बच्चों को टीकाकरण हुआ शुरू
  • कोविड टीकाकरण पर चित्रकला और रंगोली बनायी जायेगी
  • जिलास्तर पर डीएम की अध्यक्ष्ता में होगी समन्वय समिति की बैठक

छपरा: कोरोना संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा चरणबद्ध तरीके से टीकाकरण कार्यक्रम को गति देने का प्रयास किया जा रहा है। हर आयु वर्ग के लाभार्थियों को श्रेणीवार टीकाकरण किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में अब 12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण की शुरुआत की गयी है। सभी 12 वर्ष या इससे अधिक तथा 14 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को संक्रमण से बचाव हेतु कोविड 19 के टीका से आच्छादित किया जाना है। इस हेतु इस आयुवर्ग के बच्चों को कोर्बेवैक्स वैक्सीन से टीकाकृत्त किया जायेगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

टीकाकरण के सफल क्रियान्वयन को लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह के द्वारा पत्र जारी कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया है। सत्रों का आयोजन प्राथमिकता के आधार पर विद्यालय आधारित किया जायेगा तथा आच्छादनानुरूप इसे ग्रामीण स्तर पर किया जा सकता है। यह सुनिश्चित किया जाय कि इस आयुवर्ग हेतु निर्धारित सत्र स्थल पर अन्य किसी प्रकार की वैक्सीन का उपयोग नहीं किया जाय।

लाभार्थियों को दिये जाने वाला टीका:

सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने बताया कि भारत सरकार से प्राप्त दिशा-निर्देश के आलोक में 12 वर्ष या इससे अधिक तथा 14 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को केवल कोर्बेवेक्स टीका की दो खुराक 28 दिन के अंतराल में देय होगी। ज्ञात हो कि 12 वर्ष से कम आयु के किसी भी बच्चे को यह टीका देय नहीं है। टीकाकरण के सफल संचालन हेतु प्रखण्ड स्तर पर सूक्ष्म कार्य योजना इस प्रकार बनाई जाये कि कम से कम समय में सभी लक्षित लाभार्थियों को अच्छादित किया जा सके।

शिक्षक और अभिभावक की होगी बैठक:

टीकाकरण सत्र के दिन समुचित उपस्थिति सुनिश्चित किये जाने हेतु संबंधित विद्यालय स्तर पर सत्र आयोजन से पूर्व शिक्षक एवं अभिभावक की बैठक की जाये। विद्यालय में आयोजित किये जाने वाले सत्रों पर आवश्यकता अनुरूप टीका कर्मी एवं वेरिफायर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय। सत्र स्थल प्रबंधन द्वारा उक्त आयुवर्ग के बच्चों को क्रमबद्ध तरीके से टीकाकरण कराये जाने हेतु सत्र स्थल पर समुचित मानव बल तैनात की जाये ।

निकाली जायेगी प्रभातफेरी:

सिविल सर्जन ने निर्देश दिया है कि बच्चों के लिए टीकाकरण के दिन कोविड विषय पर चित्रांकण रंगोली आदि गतिविधियां आयोजित की जा सकती है। विद्यालयों में टीकाकरण सत्र के आयोजन का व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाय। संबंधित विद्यालय में टीकाकरण सत्र से एक दिन पूर्व बच्चों द्वारा प्रभात फेरी इत्यादि का आयोजन अपेक्षित होगा।

बुजुर्गों को दी जायेगी प्रीकॉशन डोज:

60 वर्ष या इससे अधिक आयुवर्ग के वैसे सभी लाभार्थी, जिनका द्वितीय खुराक लिये जाने के पश्चात 9 माह की अवधि पूर्ण हो चुकी है वे सभी प्रीकॉशन डोज के पात्र लाभार्थी होंगे। इस लक्षित आयुवर्ग के लाभार्थियों को प्रीकॉशन डोज से आच्छादित करने के लिए समुचित कार्य योजना तैयार कर आच्छादन सुनिश्चित किया जाय।