छपरा:- इस वर्ष नहीं लगेगा गोदना सेमरिया नहान मेला, कार्तिक पूर्णिमा स्नान के लिए घाटों पर NDRF की टीम रहेगी मुस्तैद

0

छपरा: सरयू नदी तट पर स्थित रिविलगंज में लगने वाले गोदना सेमरिया नहान मेला इस वर्ष नहीं लगेगा, कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए ऐसी स्थिति में मेला लगाना खतरे से खाली नहीं होगा, इसलिए श्रद्धालु सरयू नदी के घाट पर नहीं जाएँ साथ ही भीड़ भाड़ से बचें तथा अपने अपने घरों में ही स्नान कर पूजा अर्चना करें।सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश को अनुपालन करने हेतु सरकार द्वारा सभी सम्बंधित पदाधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों को सूचना प्रेषित कर सहयोग करने का निर्देश दिया गया है।इस सम्बंध में रिविलगंज प्रखंड विकास पदाधिकारी अर्चना ने बताया कि कोरोना संक्रमण के संभावित खतरे एवं जनहित स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए और सामाजिक दूरी रखना बहुत ही जरूरी है साथ ही सरकार द्वारा जारी निर्देश के आलोक में सरयू नदी के विभिन्न घाटों पर एवं मेला क्षेत्र में भीड़ भाड़ नहीं लगाना है क्योंकि इस वर्ष मेला नहीं लगेगा, उन्होंने बताया कि इस वर्ष प्रशासनिक स्तर मेला का उद्घाटन व समापन सहीत किसी भी तरह के कार्यक्रम का आयोजन नहीं होगा.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

लेकिन घाटों एवं पहुंच मार्गों की साफ सफाई रोशनी एवं सुरक्षा के दृष्टिकोण से पानी में बैरिकेडिंग किया जाएगा और कार्तिक पूर्णिमा के दिन सरयू नदी में प्राइवेट नावों का परिचालन पर रोक रहेगा।मालूम हो कि गौतम स्थान रिविलगंज में अनादि काल से हर साल कार्तिक पूर्णिमा के पावन अवसर पर सरयू नदी घाट पर नहान मेला लगता है जिसमें लाखों लोग सरयू नदी में स्नान-ध्यान कर पूण्य प्राप्ति करते हैं।कार्तिक पूर्णिमा के दिन सरयू नदी में स्नान-ध्यान एवं दान करने को लेकर काफी विशेष महत्व है जिसकी चर्चा रामचरित्र मानस सहित कई धार्मिक ग्रंथों में की गई है।