छपरा: जलजमाव व सड़क निर्माण विवाद को लेकर धरने पर बैठीं महिलायें

0
dharna

छपरा: शहर के वार्ड 34 स्थित नंदलाल टोला सड़क से मुख्य सड़क पर निकलने के लिए स्थानीय ग्रामीणों ने जनसहयोग से जलजमाव को भरने के लिए ईट गिराया था। इस पर विवाद उत्पन्न हो गया। योगेंद्र सिंह के घर से योगेंद्र पांडे के घर तक पीसीसी पथ व नाला निर्माण का कार्य मुख्यमंत्री शहरी नाली- गली पक्की करण योजना के तहत कराया जा रहा है। 90 प्रतिशत सड़क का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। बरसात के कारण सड़क का निर्माण कार्य बाधित है। मुख्य सड़क से नंदलाल टोला सड़क का लगभग 40 फीट सड़क पर जलजमाव है। इससे मोहल्ले वासियों को मुख्य सड़क से संपर्क टूट गया है। इस अधूरे सड़क जिस पर जलजमाव है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

उसको ईंट से भर कर चलने लायक बनाने के लिए स्थानीय मोहल्ले वासियों ने ईट गिराया था। इस पर कुछ लोगों ने विरोध जताया। काम को बाधित कर दिया। काम रोकने के लिए हवाई फायरिंग भी की गई। इस पर मोहल्ले के लोग भड़क गए और पूरे परिवार के साथ सड़क पर धरना देने लगे। इसकी सूचना थाना को मिली। पुलिस पहुंच कर मामला को शांत कराया तब जाकर महिला और उनके परिवार के सदस्य धरना से उठे। मालूम हो कि उक्त पथ का निर्माण 13 लाख 76 हजार 199 रुपये की लागत से छपरा नगर निगम के एजेंसी के माध्यम से कराया जा रहा था। कार्य 17 फरवरी 2021 को शुरू किया गयाऔर 4 माह के बाद कार्य को पूरा कर लेना था लेकिन संवेदक द्वारा समय पर कार्य नहीं कराया गया। धरना पर अरुण कुमार, आदर्श कुमार, शुभम जी ,भोला जी, वाहन मोहल्ले की महिलायें बैठी थी।