बेहतर ग्रेड लाने वाले स्‍कूलों की करें जांच – डीएम

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:- समाहरणालय सभागार में शुक्रवार को डीएम महेंद्र कुमार की अध्यक्षता में जिला शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक की गई। समीक्षा बैठक में डीपीओ एसएसए समर बहादुर सिंह ने वार्षिक मूल्यांकन की रिपोर्ट डीएम को दी। उन्होंने बताया कि जिले में कुल चार लाख 38 हजार 643 छात्र-छात्राओं के विरुद्ध तीन लाख 93 हजार 834 छात्र-छात्राओं ने वार्षिक मूल्यांकन में भाग लिया। मूल्यांकन के उपरांत 14.40 प्रतिशत ए ग्रेड, 68.65 प्रतिशत बी ग्रेड, 14.65 प्रतिशत सी ग्रेड, 1.53 प्रतिशत डी ग्रेड एवं 0.52 प्रतिशत ई ग्रेड छात्र-छात्राओं को ग्रेड प्राप्त हुआ है, जिसमें डीएम ने कई बिंदुओं पर गहन समीक्षा की। डीएम महेंद्र कुमार ने वार्षिक मूल्यांकन में 14.40 प्रतिशत छात्रों को ए ग्रेड आने पर थोड़ा संशय जताते हुए बैठक में उपस्थित सभी बीईओ को निर्देश दिया कि वे वैसे पांच विद्यालय का जांच करें जहां ए ग्रेड सर्वाधिक आए हैं। इन विद्यालयों में बच्चों की गुणवत्ता की जांच कर प्रतिवेदन करेंगे कि उस विद्यालय में ए ग्रेड में वृद्धि किन कारणों से हुई है। डीएम ने निर्देश दिया कि 10.22 प्रतिशत छात्र-छात्राएं मूल्यांकन में भाग नहीं लिए इसकी विद्यालय वार छात्रावार इसकी जांच कराई जाए। विद्यालय के प्रधानाध्यापक इनका भौतिक सत्यापन करेंगे। इनके अभिभावक से अभिप्रमाणित करा ही अगली कक्षा में उनका नामांकन किया जाए। मूल्यांकन में सी, डी एवं इ ग्रेड के बच्चें के लिए रिमिडियल कक्षा का संचालन किया जाए। समीक्षा बैठक में डीपीओ एसएसए ने बताया कि मार्च 2018 में बीईओ द्वारा कुल 245 विद्यालयों का निरीक्षण किया गया है, जिसमें 45 शिक्षक अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित पाए गए, जबकि इन विद्यालयों में 75 प्रतिशत से कम छात्रों की उपस्थिति पाई गई। डीएम ने निर्देश दिया कि सभी बीइओ, बीआरपी, सीआरसीसी बेस्ट मोबाइल एप के द्वारा विद्यालय निरीक्षण करेंगे, लेकिन प्रत्येक मंगलवार को जिला स्तर से विद्यालय का चयन किया जाएगा। चयनित विद्यालयों का निरीक्षण बीईओ, बीआरपी, सीआरसीसी करेंगे। बैंक खाता मामले में बताया गया कि कुल नामांकन चार लाख 38 हजार 643 के विरुद्ध तीन लाख 53 हजार 805 छात्र-छात्राओं का खाता खोला गया जो 81.13 प्रतिशत है। डीएम द्वारा इस पर संतोष व्यक्त किया गया। डीएम ने निर्देश दिया कि 90 प्रतिशत छात्रों का खाता खोलवाना सुनिश्चित करें। मुहिम पंजी के बारे में बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2017-18 में कुल 78 हजार 884 छात्र-छात्राओं का नाम काटा गया है। डीएम द्वारा सभी विद्यालयों में मुहिम पंजी संधारण का निर्देश दिया गया। वित्तीय वर्ष 2017-18 के पोशाक राशि लाभुकों के खाते में पैसा ट्रांसफर करने के लिए सभी बीईओ को निर्देश दिया कि सभी विद्यालय सात दिन के अंदर बैंकों में एडवाइस एवं सीडी उपलब्ध कराए। बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी चंद्रशेखर राय समेत शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी मौजूद थे।​

Loading...