गुठनी में बॉर्डर पर नहीं हो रही वाहनों की चेकिंग

0
police
  • निरीक्षण में यूपी से आने वाले वाहनों, आम आदमी, चार पहिया वाहन व बाइक सवारों का सघन जांच का आदेश दिया गया था
  • डीआईजी के निर्देश के बावजूद नहीं लगी सीसीटीवी
  • बिहार की सीमा में बेरोकटोक वाहनों का होता है प्रवेश

परवेज अख्तर/सिवान: यूपी-बिहार की सीमा गुठनी थाना क्षेत्र के श्रीकरपुर चेकपोस्ट पर सरकार के आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है। शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक में सभी सीमावर्ती इलाके से जुड़े थाना क्षेत्रों पर कड़ी निगाह रखने की हिदायत दी गई थी। बावजूद श्रीकरपुर चेकपोस्ट पर यूपी से आ रहे चारपहिया वाहन, बाइक, ट्रक, पिकअप, ट्रेलर, बोलेरो किसी भी वाहन की जांच नहीं की जा रही है। इससे शराबबंदी की सख्ती दरकती हुई दिखाई दे रही है। जबकि इसी महीने सारण रेंज के डीआईजी रविन्द्र कुमार द्वारा किए गए निरीक्षण में भी यूपी से आने वाले वाहनों, आम आदमी, चार पहिया वाहन व बाइक सवारों का सघन जांच का आदेश दिया गया था। साथ ही श्रीकरपुर चेकपोस्ट पर सीसीटीवी लगाने का सख्त निर्देश दिया था। बावजूद एक महीने बाद भी सीसीटीवी नहीं लग पाया। डीआईजी रविंद्र कुमार का कहना था कि सीसीटीवी से अपराधियों की गतिविधियां, लोगों पर नजर, तस्करों पर अंकुश, भीड़ पर नजर और पुलिस के लिए शराबबंदी को लागू करने में आसानी होगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

थाने को नहीं मिल पाया ब्रेथ एनालाइजर मशीन

शराबबंदी कानून लागू होने के बाद सीमावर्ती क्षेत्र होने के बावजूद गुठनी थाने को आज तक ब्रेथ एनालाइजर मशीन उपलब्ध नहीं कराया गया। जिससे पुलिस को मेडिकल कराने में काफी असुविधा होती है। उसके लिए पकड़े गए आरोपितों को पीएचसी में ले जाकर मेडिकल चेकअप किया जाता है। पुलिस अधिकारियों का कहना था कि ब्रेथ एनालाइजर मशीन होने से पुलिस शराब की जांच करने में खुद सक्षम हो जाती। अपने निरीक्षण में डीआईजी रविंद्र कुमार ने भी ब्रेथ एनालाइजर मशीन को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था। इस संबंध में एसपी अभिनव कुमार का कहना है कि इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस पर जल्द काम पूरा कर लिया जाएगा।

क्या कहते हैं डीआईजी

सारण रेंज के डीआईजी रविन्द्र कुमार का कहना था कि इस संबंध में जिले के वरीय पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। शराबबंदी लागू होने के बाद सीमावर्ती इलाकों पर पुलिस चौकसी बरत रही है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here