छपरा: दुल्हा दुल्हन के बीच ड्रेस पहनने को लेकर उठे विवाद में दोनों पक्षों के बीच हुई मारपीट

0
marpit

छपरा: दुल्हा दुल्हन के बीच ड्रेस पहनने को लेकर उठे विवाद में दोनों पक्षों के बीच हुई मारपीट। मची भगदड़ और नही हुई शादी। यह घटना बुधवार की शाम प्रसिद्ध बाबा मधेश्वर नाथ मन्दिर परिसर में घटी। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को स्थानीय समाजसेवी कृष्णा सिंह पहलवान की देखरेख में पंचायती के माध्यम से प्रेमी युगल की शादी की तिथि निर्धारित की गई। सोशल मीडिया पर शादी के कार्यक्रम को विधिवत प्रचारित किया गया था इस वजह से इस अनूठी शादी समारोह को देखने के लिए मन्दिर परिसर में भारी भीड़ उमड़ी थी। वर पक्ष की महिलाएं मंगलगान गा रही थी। इस खुशनुमा माहौल के बीच सजीधजी दुल्हन के साथ वधु पक्ष की महिलाओं सहित अनेक लोग पहुंचे। तबतक सब कुछ सामान्य था। बात तब बिगड़ी जब दूल्हे ने वधु पक्ष द्वारा लाये गए शादी का जोड़ा पहनने से इनकार कर दिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

तथा सामान्य कपड़े पहन कर शादी करने की जिद पकड़ ली। और देखते ही देखते पहले दोनों पक्ष की महिलाएं और फिर पुरुष आपस में भीड़ गए तथा हाथापाई करने लगे। परिस्थिति भांप कर शादी देखने पहुंचे कई लोग तो भाग निकले तथा कई अन्य बीच बचाव में जुट गए। इस बीच दोनों पक्ष के बीच बढ़ते हंगामें के दौरान किसी उचक्के ने कथित रूप से जेवर तथा श्रीनगर की पोटली भी उड़ा ली। सूचना पाकर पुलिस पहुंचती तबतक अपने परिजनों के साथ दूल्हा फरार हो चुका था। बाद में वधु पक्ष के लोग मन मसोस कर दुल्हन सहित वापस अपने घर चले गए। उधर शादी समारोह में शामिल सैकड़ों लोगों के लिए बनी भोजन सामग्री को घूम घूम कर लोगों ने गरीबों में वितरित की।

यहाँ बता दें कि मांझी के मेंहदीगंज निवासी मुन्ना साह के पुत्र अरुण कुमार की शादी मरहा गांव निवासी सुदामा साह की पुत्री मुस्कान कुमारी के साथ पंचायती के माध्यम से शादी तय की गई थी। इससे पहले प्रेम प्रसंग को लेकर दोनों पक्षों के बीच हुए विवाद का मामला स्थानीय पुलिस तक जा पहुंचा था। पुलिस ने इस मामले में एक प्राथमिकी भी दर्ज की थी। परंतु पंचों के आग्रह को पुलिस ने स्वीकार करते हुए कोर्ट में सुलह की सलाह दे रखी थी। न शादी हुई और न सुलह। टूट गया प्रेमी युगल का रिश्ता। चौक चौराहों पर इस घटना की ब्यापक चर्चा है।