छपरा: लड़कियों को लैंगिक असमानता के कारण घर- परिवार और समाज में करना पड़ता है संघर्षों का सामना: डॉ मधु प्रभा

0

छपरा: जयप्रकाश महिला महाविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग में स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर के छात्राओं के विदाई समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ मधु प्रभा सिंह थी। उन्होंने अपने आशीर्वचनों के साथ छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना की एवं कहा कि लड़कियों को लैंगिक असमानता के कारण घर, परिवार और समाज में विविध प्रकार के संघर्षों का सामना करना पड़ता है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

परन्तु संघर्ष हमें ताकत प्रदान करता है। अतः आप सभी को पूर्ण ताकत के साथ अपनी- अपनी अभिरुचि के अनुरूप अपनी जिम्मेदारियों को निभाते हुए किसी न किसी क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने की कोशिश करें।शादी शुदा जिंदगी आप के लिए बाधक नहीं,साधक होना चाहिए । मनोविज्ञान विभाग की डॉ आकांक्षा द्विवेदी, डॉ अमरेंद्र कुमार ने भी छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए आशीर्वचन दिए। मंच का संचालन डॉ नीतू सिंह ने किया,

उन्होंने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान समय में लड़कियों का स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर होना अत्यंत आवश्यक है और सभी को अपना लक्ष्य निर्धारित करते हुए अपने क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया।अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण होने वाले छात्राओं को मोमेंटो एवं शुभकामना पत्र देकर प्राचार्या ने उन्हें सम्मानित किया गया। छात्राओं में रितु कुमारी, पुष्पा कुमारी, सरीता कुमारी, गुलफशा प्रवीण ,कुमारी अनिता राय, प्रियंका कुमारी, राधा, श्वेता ,सोनी ,किरण ,एवं अन्य उपस्थित थीं। महाविद्यालय परिवार के सभी सदस्यों ने मिलकर कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना योगदान दिया।

अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को मोमेंटो एवं शुभकामना पत्र देकर उन्हें सम्मानित किया गया। छात्राओं में रितु कुमारी, पुष्पा कुमारी, सरीता कुमारी, गुलफशा प्रवीण ,कुमारी अनिता राय, प्रियंका कुमारी, राधा, श्वेता ,सोनी ,किरण ,एवं अन्य उपस्थित थीं। महाविद्यालय परिवार के सभी सदस्यों ने मिलकर कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना योगदान दिया।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here