छपरा: महिला समाज की सुरक्षा के लिए महिला पुलिसकर्मियों का सशक्त होना जरूरी: डीएसपी

0

छपरा: मशरक थाना परिसर में बुधवार को मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा ने मशरक, पानापुर, इसुआपुर और तरैया थाना में कार्यरत महिला पुलिस बल के अधिकारियों और जवानों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया।वही उन्होंने सम्मानित करते हुए कहा कि समाज में महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला पुलिसकर्मियों का सशक्त होना जरूरी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

आज पुलिस बल में तैनात महिला पदाधिकारी और बल के जवान कदम कदम से मिलाकर समाज की सुरक्षा के लिए तत्पर हैं। उन्होंने कहा कि समाज को महिलाओं के प्रति मानसिकता बदलने की जरूरत है। मानसिकता बदलने से ही देश तरक्की करेगा। महिलाएं छोटी-छोटी बातों पर फैसला लेना सीखें। उन्होंने कहा कि जब तक महिला मन और शरीर से मजबूत नहीं होगी तब तक सशक्त होना संभव नहीं है। महिलाओं को अपने अधिकारों की जानकारी होना बहुत जरूरी है। यदि महिलाएं जागरूक होंगी और किसी प्रकार की आपराधिक घटना की सूचना तुरंत पुलिस को देंगी तो महिला विरूद्ध अपराधों में कमी आएगी और अपराधियों को सजा भी दिलवाई जा सकेगी। वही थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने कहा कि हर व्यक्ति को कानून और अपने अधिकारों के बारे में जानकारी अवश्य होनी चाहिए। जानकारी के अभाव में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

बच्चियों को पढ़ाना और आत्मनिर्भर बनाना जरूरी है।सक्षम नारी ही सशक्त नारी बन पाएगी और सशक्त समाज बनाएगी। महिलाओं को कोई भी परेशानी हो तो डरना नहीं चाहिए, तुरंत कॉल करके पुलिस को सूचना देनी चाहिए। जिससे तुरंत उनको सहायता मिल सकेगी और महिला विरूद्ध अपराधों में कमी आएगी और अपराधियों को सजा भी दिलवाई जा सकेंगी।मौके पर पुलिस इंस्पेक्टर राधेश्याम प्रसाद, थानाध्यक्ष राजेश कुमार ,दारोगा राजेश रंजन,लक्ष्मण प्रसाद, जमादार ओम प्रकाश यादव, देवनंदन राम,अजय कुमार सिंह मौजूद रहे। वही सम्मानित होने वालों में प्रशिक्षु दारोगा मधु कुमारी,

अंजलि प्रकाश, आंगनबाड़ी सेविका मधु कुमारी सिन्हा,महिला सिपाही मशरक सपना कुमारी, पूजा कुमारी, कविता कुमारी, देव कुमारी देवी, महिला सिपाही पानापुर थाना सीमा कुमारी, तरैया अंचल गार्ड आशा कुमारी, मनीषा कुमारी, तरैया थाना गार्ड सपना कुमारी, गुंजा कुमारी, इसुआपुर थाना महिला गार्ड रूपम कुमारी, दीप्ति कुमारी, प्रियंका कुमारी के साथ-साथ सभी महिला बल को सम्मानित किया गया।