छपरा: बेहतर समन्वय स्थापित कर पल्स पोलियो अभियान को बनाएं सफल: जिलाधिकारी

0
  • हर-घर दस्तक कार्यक्रम के तहत शत प्रतिशत लोगों को कोविड का टीका लगावे
  • 19 से 25 जून 2022 तक पल्स पोलियों अभियान में शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने का दिया गया निदेश

छपरा: सारण समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी राजेश मीणा की अध्यक्षता में पल्स पोलिया अभियान, कोविड टीकाकरण एवं नियमित टीकाकरण की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। जिसमें जिलाधिकारी के द्वारा प्रत्येक बिन्दुओं पर चर्चा की गयी। जिलाधिकारी ने कहा कि 19 से 25 जून तक जिला में पल्स पोलिया अभियान की शुरुआत की जायेगी। इस अभियान में आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा घर-घर जाकर 0 से 5 वर्ष तक बच्चों को पोलियो की खुराक पिलायेंगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

पल्स पोलिया अभियान के लिए भी माइक्रोप्लान बनाना बहुत ही आवश्यक है। इसके लिए प्रखंड स्तर बीडीओ की अध्यक्षता में टास्क फोर्स की बैठक कर प्लान तैयार करें। ताकि कोई भी बच्चा पोलियो की दवा से वंचित नहीं रहे। जिलाधिकारी के द्वारा निर्देश दिया गया कि पल्स पोलियों अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए सभी विभागों से बेहतर समन्वय स्थापित कर अभियान को सफल बनाएं। आमजनों को जागरूक करने के लिए दीवाल लेखन तथा ऑडियो के माध्यम से प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी के द्वारा निर्देशित किया गया कि स्वास्थ्य विभाग, पंचायती राज, आईसीडीएस, शिक्षा विभाग, जीविका सभी आपसी समन्वय स्थापित कर इस अभियान को सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि पल्स पालियों अभियान में लगें सभी पदाधिकारी एवं कर्मी का यह कर्तब्य है कि वे इस अभियान की सफलता में अपना शत-प्रतिशत योगदान देना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड टीकाकरण के लक्ष्य को हर घर दस्तक कार्यक्रम के तहत शत-प्रतिशत हासिल किया जाय। प्रथम डोज, दूसरे डोज एवं बूस्टर डोज के लिए आने वाले लाभार्थियों का हर हाल में टीकाकरण करना सुनिश्चित किया जाय। पंचायत वार्,वार्ड वार छुटे हुए लोगों की सूची बनाकर प्राथमिकता के तौर पर टीका लगाने का निर्देश दिया गया। सभी को कोविड का टीकाकरण की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए इसके प्रचार-प्रसार की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय ताकि कोविड टीकाकरण सेंटर की जानकारी आम आदमी तक आसानी से सुलभ हो जाय। कोविड जांच के अद्यतन स्थिति की प्राथमिक स्वास्थ केंद्रवार सघन समीक्षा की गई। कोविड जांच में लापरवाही बरतने वाले स्वास्थ केंद्र प्रभारी को प्रशासनिक कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

जिलाधिकारी के द्वारा नियमित टीकाकरण की विस्तृत समीक्षा कि गयी। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि कुछ प्रखंड में नियमित टीकाकरण के लक्ष्य का प्रतिशत बहुत कम है। जिसपर जिलाधिकारी के द्वारा असंतोष व्यक्त किया गया तथा कम लक्ष्य प्राप्ति वाले प्रखंड स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी को अतिशीघ्र लक्ष्य को पूरा करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि अगली बैठक में इसकी विस्तृत समीक्षा की जाएगी और कम लक्ष्य प्राप्ति वाले स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारी पर आवश्यक कार्रवाई भी की जाएगी।

इस बैठक में जिलाधिकारी राजेश मीणा के साथ , डीएमओ, एसीएमओ, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी आईसीडीएस ,जिला जनसंपर्क पदाधिकारी,डीआईओ, डीपीसी, केयर इंडिया के प्रतिनिधि, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ, एसएमसी, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, स्वास्थ्य प्रबंधक और सीडीपीओ शामिल थे।