छपरा: टॉल फ्री नंबर 14555 या 104 पर कॉल कर ले सकते हैं आयुष्मान भारत योजना की संपूर्ण जानकारी

0
  • नि:शुल्क बनाया जाता है आयुष्मान कार्ड
  • प्रत्येक लाभार्थी को 5 लाख रुपये तक के नि:शुल्क उपचार की सुविधा
  • नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पर बनवा सकते हैं आयुष्मान कार्ड

छपरा: गरीब व असहाय परिवार के लोगों के लिए स्वास्थ्य की चिंता हमेशा सताती है। प्रत्येक व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। जिले में आयुष्मान भारत योजना चलायी जा रही है जिसके तहत पात्र लाभार्थियों को नि:शुल्क गोल्डेन कार्ड बनाया जा रहा है। आयुष्मान भारत के लाभार्थियों को पांच लाख रुपये तक के नि:शुल्क उपचार की सुविधा मुहैया करायी जाती है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

आयुष्मान योजना की जानकारी हर व्यक्ति को मिल सके इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा टॉल फ्री नंबर जारी किया गया है। जिस पर कॉल करके योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी ले सकते हैं । टॉल फ्री नंबर 14555 या 104 पर कॉल कर ले सकते हैं योजना की जानकारी । इसके साथ वेबसाइट पर जानकारी ले सकते हैं । भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत योजना के तहत कार्ड धारकों को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। यह सुविधा जिले के सभी सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में उपलब्ध है। जबकि, कई निजी अस्पतालों का भी चयन किया गया। जिले में सामाजिक आर्थिक जनगणना – 2011 के आधार पर अबतक 68 हजार 18 लोगों का आयुष्मान कार्ड बन चुका है। जबकि, शेष लोगों का जल्द से जल्द कार्ड बनाने को लेकर संबंधित विभाग अग्रसर है।

सूचीबद्ध अस्पतालों में करा सकते हैं निःशुल्क इलाज:

आयुष्मान कार्ड योजना के लाभार्थी बिना गोल्डन कार्ड के भी सूचीबद्ध अस्पतालों में करा सकते हैं निःशुल्क इलाज। वैसे लाभार्थी जिनका गोल्डन कार्ड अभी तक नहीं बना है और उनका नाम आयुष्मान योजना सूची में दर्ज हो या फिर जिनको प्रधानमंत्री द्वारा जारी आयुष्मान योजना का पत्र प्राप्त हो वैसे लाभार्थी अपने जिले या जिला के बाहर आयुष्मान योजना के तहत सूचीबद्ध निजी या सरकारी अस्पतालों में आवश्यकता पड़े तो अपना इलाज करा सकते हैं। इसके लिए लाभार्थी को सूची में दर्ज नाम या प्रधानमंत्री द्वारा जारी पत्र को उक्त अस्पताल में प्रस्तुत करना पड़ेगा।

सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों के साथ-साथ जिले में संचालित सभी सीएससी पर बनाया जाता है आयुष्मान कार्ड :

आयुष्मान भारत के जिला समन्वयक नीरज कुमार ने बताया कि आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए जिले में संचालित सभी सीएससी (काॅमन सर्विस सेंटर/वसुधा केंद्र) को चयनित किया गया है। सभी सीएससी के संचालकों को सुविधाजनक तरीके से कार्ड बनाने के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए गए हैं। इसके अलावा सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में भी बनाया जाता है। इसलिए, जो लोग किसी भी कारण वश अबतक कार्ड नहीं बनवा पाएं हैं, वह अपने नजदीकी सीएससी पर जाकर आसानी के साथ कार्ड बनवा सकते हैं। कार्ड बनाने के पश्चात ही मिलने वाली स्वास्थ्य सुविधा का लाभ ले सकते हैं। वहीं, उन्होंने बताया, कार्डधारी किसी भी प्रकार की बीमारी का नि:शुल्क इलाज और दवाई की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं।