सिवान के तरवारा में ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से बच्चे की मौत

0

बगैर पोस्टमार्टम कराए शव को दफनाया

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के जी.बी नगर थाना क्षेत्र के कर्णपुरा पंचायत के दीक्षितपुर तिवारी टोला गांव में सोमवार की सुबह ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से एक बच्चा ट्रैक्टर से गिरकर गंभीर रूप से मौत हो गया। घटना के बाद परिजनों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।मृत बच्चा दीक्षितपुर तिवारी टोला निवासी गौतम तिवारी का पुत्र अंकित कुमार 4 वर्ष है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

जो चार भाइयों में सबसे छोटा था। उसके पिता गांव में कपड़े कि फेरी लगाकर अपने बच्चों का भरण पोषण करते थे।अचानक बच्चे की हुई मौत से पूरा परिवार सदमे में है। वही पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है।मिली जानकारी के अनुसार पड़ोस का एक युवक सुबह दरवाजे पर ट्रैक्टर लेकर पहुंच गया। ट्रैक्टर को देख बच्चे ट्रैक्टर पर चढ़ने के लिए जिद करने लगे।चालक ने वहां मौजूद चारों बच्चों को ट्रैक्टर पर बैठा लिया थोड़ी दूर खेत में जाने के बाद ट्रैक्टर चालक का नियंत्रण बिगड़ गया। जिससे खेत के बांध पर ट्रैक्टर चढ़ने से बच्चा ट्रैक्टर से नीचे गिर गया। इसके बाद बच्चे चिल्लाने लगे।बच्चा ट्रैक्टर से गिरने के बाद पिछले चक्के के नीचे आ गया।

जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल अवस्था में उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पुलिस के पहुंचने से पहले लोगों ने मामले को रफादफा करते हुए शव को दफनाया दिया।इतनी बड़ी घटना के बाद आसपास के लोगों ने पुलिस को बिना सूचना दिए शव को दफना दिया। लोगों ने बताया कि दुर्घटना के बाद बगैर पोस्टमार्टम कराए शव को दफना देना कानूनन जुर्म है। वही ट्रैक्टर चालक व मालिक पर पुलिसिया करवाई नहीं होने से लोगो में असमंजस की स्थिति बनी हुई हैं। इस संबंध में इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि इस तरह की शिकायत किसी ने नहीं किया हैं।शिकायत मिलने पर करवाई की जाएगी।

आंगन की खुशियां काफूर हो गयी

ट्रैक्टर से दबकर बच्चे की हुई मौत की सूचना मिलने के बाद उसकी मां बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। इसके बाद लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई होश में आने के बाद बच्चे को बुलाने की बात कहकर रोने लगी। उसे क्या पता ट्रैक्टर पर चढ़ने की बच्चे की जिद पल भर में उसकी गोद सुना कर देगी। उसके आंगन की खुशियां काफूर हो जाएगी। वही उसके पिता बेटे के शव को देखते बेशुद्ध पड़े थे। बच्चे की मौत से पूरे गांव में सन्नाटा छा गया