भरतपुरा गांव के चंवर से ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने शव को किया बरामद

0
shav baramdh
  • शव मिलने से इलाके में फैली सनसनी
  • बृहस्पतिवार की देर संध्या से मृतक था लापता
  • अवैध शराब के कुटीर उद्योग के समीप से शव बरामदगी को लेकर बना चर्चा का विषय
  • दो बिंदुओं पर पुलिस कर रही है अनुसंधान
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के पश्चात ही घटना से उठेगा पर्दा

परवेज़ अख्तर/तरवारा:
जिले के जी.बी. नगर तरवारा थाना क्षेत्र के भरतपुरा गांव के बघुआ के खाड़ी स्तिथ चवंर से ग्रामीणों की सूचना पर शुक्रवार की अल- सुबह स्थानीय पुलिस ने एक 55 वर्षीय अधेड़ का शव बरामद किया है। शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई तथा तरह-तरह के अटकलों का बाजार गर्म हो गया। शव मिलने के पश्चात पुलिस ने पंचनामा के आधार पर बरामद कर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक बृहस्पतिवार की देर संध्या से ही घर से  लापता था। बरामद शव की पहचान भरतपुरा गांव के सुगालाल महतो (55) वर्ष के रूप में की गई है। घटना के संबंध में प्राप्त जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की अल-सुबह उक्त चंवर में ग्रामीण मछली मारने गए हुए थे। तभी मछली मारने वाले लोग एक व्यक्ति का शव पानी में तैरते हुए देखकर भौचक रह गए। और लोगों ने शव देखने के पश्चात शोर मचाना शुरू कर दिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

उसके बाद धीरे-धीरे ग्रामीण ग्रामीणों का हुजूम घटनास्थल पर उमड़ पड़ा। इसी बीच स्थानीय मुखिया अशोक कुमार शर्मा भी घटनास्थल पर पहुंचे तथा शव की शिनाख्त कर इसकी सूचना स्थानीय थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह को दी।सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह,अवर निरीक्षक पंकज कुमार दल बल के साथ मौके पर पहुंचे तथा पंचनामा के आधार पर शव को बरामद कर पोस्टमार्टम हेतु सिवान सदर अस्पताल भेज दिया।परिजनों ने बताया कि सुगालाल महतो जो बृहस्पतिवार की देर शाम से ही अचानक घर से लापता हो गए थे।काफी खोजबीन के बाद उनका कहीं सुराग नहीं लग पा रहा था कि इसी बीच शुक्रवार की अल- सुबह ग्रामीणों द्वारा यह सूचना मिली कि उनका शव भरतपुरा गांव के बघुआ के खाड़ी के चंवर में पानी में पड़ा हुआ है।

तो आनन-फानन में हम सभी लोग घटनास्थल पर पहुंचे तथा शव की पहचान की। परिजनों ने बताया कि शव को देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि अपराधियों द्वारा पहले उनकी जबरदस्त तरीके से पिटाई कर मौत के घाट उतारने के बाद साक्ष्य छुपाने की नीयत से शव को चंवर स्थित पानी मे फेंक दिया गया है।इस घटना को लेकर गांव में तरह-तरह के अटकलों का बाजार गर्म है।लोग जितनी मुंह उतनी बातें कर रहे हैं।इस संबंध में जी.बी. नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि शव बरामदगी के पश्चात शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है।पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह पता चल सकेगा कि सुगलाल महतो की मौत किस कारण से हुई है।उन्होंने बताया कि अभी तक मृतक के परिजनों द्वारा कोई लिखित आवेदन नहीं दी गई है।ताकि जिसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जा सके।लेकिन मामले की तहकीकात शुरू कर दी गई है।

hatya shav

अवैध शराब के कुटीर उद्योग के समीप से शव बरामदगी को लेकर बना चर्चा का विषय

अवैध शराब के कुटीर उद्योग के समीप से सुगालाल महतो का शव बरामद होना क्षेत्रों में एक चर्चा का विषय बना हुआ है।यहां बताते चले कि उक्त स्थान पर लगातार कई वर्षों से शराब माफियाओं के द्वारा अवैध शराब का निर्माण किया जाता है हालांकि कई बार ग्रामीणों की सूचना पर स्थानीय पुलिस ने एक टीम गठित कर छापेमारी के दौरान कई बार भठ्ठियों को ध्वस्त कर चुकी है।ग्रामीणों का कहना है कि उक्त स्थान पर शव की बरामदगी होना अपने आप में चर्चा का विषय है।

hatya

शव पहुंचते ही गांव में मचा कोहराम

उधर जैसे ही शुक्रवार की देर शाम सुगालाल महतो का शव पोस्टमार्टम के बाद शुक्रवार की देर शाम उसके पैतृक गांव भरतपुरा में पहुंचा तो परिजनों की हृदय विदारक चीत्कार से गांव में कोहराम मच गया। परिजन दहाड़ मार रो बिलख रहे थे।वहीं स्थानीय मुखिया अशोक कुमार शर्मा परिजनों संग मिलकर ढाढस बढ़ा रहे थे। मृतक सुगालाल महतो अपने पीछे चार पुत्रों में क्रमशः दिलीप महतो, राजदेव महतो, शत्रुघ्न महतो तथा संदीप महतो व दो पुत्रियों में क्रमशः धर्म शिला देवी तथा सुशीला देवी को छोड़ गए। घटना के दिन इनके एक भी पुत्र तथा पुत्री घर पर नहीं थे।दोनों पुत्रियों की शादी हो चुकी है तथा चारों पुत्र अपना जीवन यापन करने के लिए बाहर में मजदूरी करते हैं।उधर परिजनों की सूचना पर नजदीक होने के नाते दोनों पुत्री घर पर पहुंची। घर पर पहुंचते ही इनके रोने बिलखने की आवाज से पूरा गांव शोकाकुल हो गया।मृतक की पत्नी चमेली देवी का रोते-रोते बुरा हश्र हो चुका है।शव देखकर वह फफक- फफक रो रही है।रोते-रोते उसके रिमझिम आंखों के आंसू ही सूख गए हैं।

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष

जी.बी. नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि घटना को लेकर परिजनों द्वारा अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई है। ताकि प्राथमिकी दर्ज की जा सके।आवेदन प्राप्त होते ही प्राथमिकी दर्ज कर वरीय पुलिस पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में आगे की कार्रवाई की जाएगी।दूसरी ओर शराब के अड्डे के समीप शव बरामदगी को लेकर उन्होंने कहा कि पूर्व में यहां अवैध शराब का निर्माण की जाती थी।लेकिन मेरे कार्यकाल में छापेमारी कर इस पर अंकुश लगा दिया गया है।फिलहाल वहां अवैध शराब का निर्माण नहीं की जाती है।तथा पूरा चंवर पानी से खचाखच भरा हुआ है। उन्होंने कहा कि घटना को लेकर 2 बिंदुओं पर अनुसंधान की जा रही है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के पश्चात ही घटना से पर्दा उठना संभव है।