सिविल सर्जन ने आइसोलेशन वार्ड में 10 स्वास्थ्य कर्मियों को किया प्रतिनियुक्त

0
  • संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए शुरू की गई तैयारी
  • कोविड केयर सेंटर और डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर को किया गया क्रियाशील

छपरा: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए विभाग संकल्पित है। इसके रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिले में कोविड केयर सेंटर और डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर को फिर से शुरू कर दिया गया है। इन सेंटरों में सभी आवश्यक सुविधाओं को सुनिश्चित किया गया है। सिविल सर्जन डॉ जनार्दन प्रसाद सुकुमार ने आइसोलेशन वार्ड में 10 स्वास्थ्य कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की है। प्रतिनियुक्त स्वास्थ्य कर्मियों को तत्काल प्रभाव से आइसोलेशन वार्ड, सदर अस्पताल में योगदान देने का निर्देश सिविल सर्जन के द्वारा दिया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इन दस स्वास्थ्य कर्मियों की हुई प्रतिनियुक्ति

सिविल सर्जन ने रिविलगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के जीएनएम वीरेंद्र कुमार, सोनपुर रेफरल अस्पताल के जीएनएम रंजन कुमार, माझी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के जीएनएम मोहित कुमार, एकमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के जीएनएम मीना कुमारी, रिविलगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एएनएम कुमारी संगीता, गरखा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एएनएम पूजा कुमारी, अमनौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एएनएम उषा देवी, परसा समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एनएम गुंजन कुमारी, मढौरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य प्रशिक्षक प्रदीप कुमार, एकमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य प्रशिक्षक विनोद चौधरी को आइसोलेशन वार्ड सदर अस्पताल में प्रतिनियुक्त किया है।

31 अप्रैल तक सभी चिकित्सकों की छुट्टी रद्द

सिविल सर्जन डॉ जनार्दन प्रसाद सुकुमार ने बताया कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को रोकथाम एवं निरोधात्मक उपाय के लिए विशेष चौकशी एवं अनुश्रवण की आवश्यकता है। इसको देखते हुए जिले के सभी चिकित्सा पदाधिकारियों संविदा नियोजित सहित, पारा मेडिकल स्टाफ, जीएनएम, एएनएम, लैब टेक्नीशियन, शल्य कक्ष सहायक, सभी चतुर्थ वर्ग कर्मी का छुट्टी 31 अप्रैल तक रद्द कर दी गयी है। अध्ययन अवकाश एवं अति तो अवकाश को छोड़कर सभी तरह का छुट्टी रद्द की गई है ।

24 घंटे क्रियाशील है मेडिकल हेल्पलाइन नंबर

सिविल सर्जन ने बताया कि कोरोना काल में ही जिले में टोल फ्री मेडिकल हेल्पलाइन सेवा की शुरुआत की गई थी। अभी भी यह सेवा 24 घंटे क्रियाशील है। अगर किसी व्यक्ति को कोविड-19 की जांच एवं इलाज से संबंधित किसी प्रकार की जानकारी लेनी हो तो वह नि:शुल्क हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर जानकारी ले सकते हैं। 18003456607 टोल फ्री नंबर पर कॉल कर चिकित्सकीय परामर्श तथा जांच एवं इलाज के लिए सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों, चिह्नित निजी स्वास्थ्य संस्थानों, निजी जांच केंद्रों की जानकारी ले सकते हैं।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here