नीति आयोग की रिपोर्ट पर CM नीतीश ने जताई नाराजगी, आयोग के पैरामीटर्स पर खड़े किए सवाल

0

पटना: नीति आयोग की रिपोर्ट को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने असंतोष जाहिर किया है. उन्होंने कहा की नीति आयोग किस विषय पर काम कर रहा है. सारे देश को अगर आप एक ही मानकर चल रहे हैं तो यह तो विचित्र बात है. उन्होंने कहा की बिहार की क्या स्थिति है. बिहार आबादी के हिसाब से देश में तीसरे नम्बर पर है. उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के बाद बिहार है. लेकिन क्षेत्रफल के हिसाब से बारहवें स्थान पर है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

उन्होंने कहा की एक स्क्वायर किलोमीटर में जो आबादी है. वह देश में कहीं नहीं है. शायद ही दुनिया के किसी जगह पर है. ऐसी परिस्थिति में बिहार है. उन्होंने कहा की जब बिहार के लोगों ने हमलोगों को काम करने का मौका दिया. एक एक विषय पर हमलोगों ने काम किया है. हेल्थ के बारे में पहले क्या स्थिति थी. 2006 में फ़रवरी तक हमलोगों ने सर्वेक्षण करा लिया. हमलोग भी क्षेत्र में घूमते थे. हर गरीब परिवार को भोजन से ज्यादा इलाज पर खर्च है. फिर भी इलाज नहीं होता था. यहां के अस्पतालों में कम लोग जाते थे. उन्होंने कहा की बिहारशरीफ के अस्पताल में कुत्ता बैठा रहता था. अब कितने अस्पताल बढे. कितने मेडिकल कॉलेज बढे।

उन्होंने कहा की आईजीआईएमएस काम नहीं कर रहा था. अब कितना अच्छा काम कर रहा है. भारत सरकार का एम्स बना. नीति आयोग को पता है की हमलोग पीएमसीएच को कितने बड़े अस्पताल के रूप में कन्वर्ट कर रहे हैं. देश में ऐसा अस्पताल नहीं है. 5400 बेड का अस्पताल बन रहा है. जिसका काम शुरू हो गया है. तय कर दिया की चार साल के अन्दर यह काम पूरा होगा. प्रधानमन्त्री के जन्मदिन पर 33 लाख टीकाकरण किया. बापू के जन्मदिन पर 30 लाख का टीकाकरण किया गया. लेकिन काम भी देखना चाहिए. यह एक्चुअल अध्ययन नहीं है. इसका उत्तर भी जायेगा. स्पष्ट तौर पर अध्ययन करना चाहिए. उन्होंने कहा की कभी मीटिंग होगी तो हम जरुर कहेंगे।