स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन पर CM नीतीश कुमार ने जताया दुख, कहा- देश के लिए अपूरणीय क्षति

0

पटनाः स्वर कोकिला और भारत रत्न लता मंगेशकर का रविवार को मुंबई में निधन हो गया. वो पिछले 29 दिन से ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती थीं. आठ जनवरी को लता मंगेशकर को कोविड पॉजिटिव पाया गया था. उनके निधन के बाद देश में दो दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया है. इधर, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने भी शोक जताया है.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि लता मंगेशकर प्रख्यात पार्श्व गायिका थीं. उन्हें भारत रत्न, पद्म विभूषण, दादा साहब फाल्के पुरस्कार, फिल्मफेयर लाइफटाइम अचिवमेंट पुरस्कार सहित कई अन्य खिताबों से सम्मानित किया गया था. वे भारतीय संसद के उच्च सदन राज्यसभा की सदस्य रह चुकी थीं. आने वाली पीढ़ियां उन्हें भारतीय संस्कृति के एक दिग्गज के रूप में याद रखेंगी, जिनकी सुरीली आवाज में लोगों को मंत्रमुग्ध करने की अद्वितीय क्षमता थी. उनका निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति है. मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शान्ति तथा उनके परिजनों एवं प्रशंसकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है.

‘महान कलाकार थीं लता मंगेशकर’

वहीं, लता मंगेशकर के निधन पर बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने भी गहरा शोक व्यक्त किया. उन्होंने कहा- “स्वर कोकिला, स्वर साम्राज्ञी व “भारत रत्न” लता मंगेशकर के निधन से अत्यंत दुखी हूं. वह एक महान कलाकार थीं और अपने आप में एक संस्था थीं. उन्होंने अपने समृद्ध स्वर से संगीत को नई ऊंचाइयां दी और एक साथ परिवार की कई पीढ़ियों को जोड़ा. उनका निधन सम्पूर्ण राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति है. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें. परिजनों व प्रशंसकों के प्रति संवेदनाएं.”