जिप की बैठक में अधिकारियों व सदस्यों के बीच रही गहमागहमी

0
mahila

परवेज अख्तर/सिवान : जिला परिषद के सभागार में शनिवार को आम सभा की बैठक चेयरमैन संगीता देवी की अध्यक्षता में हुई। बैठक में पूर्व आम सभा में जिला परिषद सदस्यों के द्वारा उठाए गए मुद्दों के अनुपालन संबंधित प्रतिवेदन के आधार पर संपुष्टी की गई। विभिन्न जिला परिषद सदस्यों के द्वारा उठाए गए सवाल का समुचित जवाब पदाधिकारियों द्वारा नहीं दिए जाने के चलते सदन में गहमागहमी का माहौल रहा। बैठक में बिजली, शिक्षा, कृषि, स्वास्थ्य, पथ निर्माण, सहकारिता सहित विभिन्न विभागों का मुद्दा सबसे अधिक छाया रहा। दरौली के माले विधायक सत्यदेव राम ने कहा कि किसी भी पीडीएस दुकानदार द्वारा लाभुकों को पांच किलो अनाज नहीं दिया जा रहा है। जिस दिन लाभुकों को पांच किलो अनाज दिलवाना संबंधित पदाधिकारी सुनिश्चित कर देंगे, उस दिन वे सदन में धन्यवाद के पात्र होंगे। जिला परिषद उपाध्यक्ष ब्रजेश कुमार सिंह ने चैनपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शीघ्र चिकित्सा व्यवस्था बढ़ाने के साथ समय से संचालन करने का मुद्दा उठाया। इस पर सिविल सर्जन ने 24 घंटे में सुधार करने का आश्वासन दिया। स्थास्थ्य केंद्रों में एंटी रेबीज सूई, बिजली कंपनी की लापरवाही के चलते कई टोले में विद्युत कलेक्शन नहीं होने, ट्रांस्फारमर, पोल, तार आदि की व्यवस्था नहीं होने के मुद्दे को जिला पार्षद सुशिल कुमार डब्लू, जल्फेकार अहमद उर्फ मिठु, जयकरण महतो ने गंभीरता से उठाया। पार्षद हितेश कुमार ने दरौंदा प्रखंड में 450 रुपये में यूरिया मिलने के साथ पीएचसी में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को 15 अगस्त व 26 जनवरी के दिन ही झंडात्तोलन में उपस्थित होने का मामला उठाया। सदन में ढ़ाई साल में एक बार भी शिक्षा समिति की बैठक नहीं होने, सदस्यों के सवालों का जवाब पदाधिकारियों द्वारा तोड़-मड़ोर कर दिए जाने पर जमकर बहसबाजी हुई। कई ग्रामीण पथों का मरम्मत नहीं होने से गड्ढे में तब्दील होने का मामला भी छाया रहा। इस पर डीडीसी ने सभी सदस्यों से अपील किया कि शीघ्र आप अपने क्षेत्र में जर्जर हालत वाली सड़कों की सूची विभाग में जमा करें। ताकि आचार संहिता लागू होने के पहले सड़क मरम्मत किया जा सके। इसमें किसी भी सड़क को शामिल कर सकते है। राज्य सरकार ने इसके लिए एक नई योजना शुरु की है। बैठक में एडीएम विधुभूषण चौधरी,डीएसओ संतोष कुमार झा, डीईओ चंद्रशेखर राय, डीपीओ समरबहादुर सिंह सहित विभिन्न विभागों के पदाधिकारी व जिला परिषद सदस्य, प्रमुख आदि शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal