चिट फंड कंपनी के विरुद्ध में उतरे उपभोक्ता, हंगामा

0
perdarsan

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के जी. बी. नगर थाना क्षेत्र के चौकी हसन गांव स्थित पूर्व मुखिया अब्दुल हमीद के आवास पर चिट फंड बैंकिंग कंपनी के खिलाफ 200 उपभोक्ता पहुंच कर पूर्व मुखिया के नेतृत्व में हंगामा किया . बताते चले कि चौकी हसन साहब टोला गांव निवासी स्व एजाज अहमद का पुत्र जमाल अहमद चिट फंड कंपनी उम्मीद कार्पोरेसन प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड दिल्ली , मैक्स मल्टी प्रपोस को- ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड दिल्ली , सोनीपत तथा आरडीपीएल लैंड मार्क एंड इंफ्रा स्ट्रैक्टर्स दिल्ली , सोनीपत हरियाणा का मैनेजर बन कर अपने सहयोगी चौकी हसन कुशवाहा टोला गांव निवासी पारस कुशवाहा के पुत्र रानू कुशवाहा के साथ मिल कर चौकी हसन गांव के 200 उपभोक्ताओं को अपने जाल में लेकर अधिक मुनाफे का लोभ दिखाते हुए , फर्जी बॉड , फर्जी चेक कंपनी के नाम से निर्गत कर एक 1 करोड़ 12 लाख रुपये की ठगी कर ली . उपभोक्ताओं का उस समय पैरों तले जमीन खिसक गया जब मैच्यूरिटी का समय पूरा होने पर जब उक्त निर्गत की गयी चेक तथा बांड को लेकर बैंक पहुंचे तो बैंक द्वारा चेक फर्जी बताया गया . उसके बाद सभी उपभोक्ता अपने जमा किये गये रुपये के लिए जब जमाल अहमद के पास पहुंचे तो उन्होंने बताया कि यह कंपनी फरार हो गयी है . मैंने कंपनी के ऊपर 5 लाख 30 हजार रुपये का दावा किया है . जबकि उपभोक्ताओं का कहना है कि 1 करोड़ 12 लाख रुपये जमा करायी गयी है . इस घटना के बाद ठगी में शामिल चौकी हसन गांव का पारस कुशवाहा का पुत्र रानू कुशवाहा फरार हो गया है . ठगी करने से पहले जमाल अहमद व रानू कुशवाहा ने मिल कर सीवान फतेहपुर में कंपनी का कार्यालय खोल था , जहां कार्यालय नहीं है . हंगामा करने वालों में आफताब आलम , रेयाज कुरैशी , महमूद आलम , जुलेखा खातून , समीना खातून , बच्ची देवी , बैजनाथ साह , आफरीन बेगम , हुस्नआरा खातून , आशिमा खातून , रूबी यास्मीन , तब्बसुम खातून थे.