कोरोना से जंग: पोलियो अभियान की तर्ज पर डोर टू डोर सर्वे व स्क्रीनिंग का कार्य शुरू

0
polio
  • संदिग्ध मरीजों की होगी स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग, लिये जायेंगे सैंपल
  • सर्वे करने वाले कर्मियों को दी जाएगी प्रोत्साहन राशि

सिवान: कोरोना से जंग जीतने के लिए सरकार व जिला प्रशासन की ओर से कई अहम कदम उठाए जा रहें हैं। स्वास्थ्य विभाग ने एक नई पहल शुरू की है। अब पल्स पोलियो अभियान के तर्ज पर ही कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर घर-घर जाकर सर्वे व स्क्रीनिंग की जायेगी। इस काम में आंगनबाड़ी, आशा व अन्य उत्प्ररेकों की मदद ली जायेगी। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से आवश्यक निर्देश जारी किया है। सर्वे संबंधित कार्य 16 अप्रैल से प्रारंभ हो गया । इसके लिए टीम का गठन किया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

तीन स्तरों पर ली जाएगी सूचना

सर्वे कार्य के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा कोविड 19 फॉर्म उपलब्ध कराये गये हैं। इसमें तीन स्तरों पर सूचना उपलब्ध कराने का काम किया जाना है। कोविड 19 फॉर्म के तहत पहला प्रपत्र स्थानीय स्तर पर नियुक्त किये गये दलकर्मी भरेंगे। कोविड 19 फॉर्म के तहत 2, 3 व 3 ए व 4 प्रपत्र को पर्यवेक्षक व फॉर्म 5 जिला स्तर पर भरने का काम किया जायेगा। सर्वे के दौरान प्रत्येक घर में हाउस मार्किंग की जायेगी। संदिग्ध पाये गये व्यक्तियों के घरों पर चिन्हित किया जायेगा।

प्रत्येक दलकर्मी को उपलब्ध कराये जायेंगे सुरक्षा किट

कोविड 19 को लेकर घर घर सर्वे करने वाले प्रत्येक टीम को एक किट जिला द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा। इसमें तीन लेयर वाला 10 पीस मास्क, नॉन स्ट्रॉयल 10 पीस हैंड गलब्स व एक साबुन होंगे। सर्वे के काम में लगे सभी कर्मियों को भ्रमण के लिए पास भी निर्गत किया जाना है। राज्य के अन्य सभी जिलों के जिलांगर्त व विदेश से आये हुए लोगों के गांव व शहर के संबंधित वार्डों में भी गहन सर्वेक्षण का कार्य कर कार्ययोजना तैयार का निर्देश दिया गया है।

ली जाएगी ये जानकारी

पर्यवेक्षक अपने दलकर्मियों के पोषक क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक दवा दुकान एवं सामुदायिक व ग्रामीण चिकित्सक से संपर्क कर बुखार के साथ खांसी अथवा सांस लेने में परेशानी वाले चिन्हित मरीजों की विवरणी फॉर्म 3 ए में भरेंगे। दवा दुकान, सामुदायिक व ग्रामीण चिकित्सकों से संदिग्ध मरीजों की विवरणी प्राप्त करने का कार्य अभियान सर्वे के प्रथम दिन तथा छठे दिन किया जायेगा तथा तदनुसार प्राप्त किये गये सूची का सत्यापन कर संदिग्धों की सूची तैयार की जायेगी। इसके बाद यह सूची प्रखंड कार्यालय को उपलब्ध कराया जाना है।

polio ki dwa

संदिग्ध पाये गये मरीजों की स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग

कोविड फॉर्म 3 एवं 3 एक में दर्ज आंकड़ों में संदिग्ध लक्षणों के साथ पाये गये व्यक्तियों को कोरेंटाइन करते हुए प्रखंड स्तरीय चिकित्सकों की टीम द्वारा स्क्रीनिंग किये जाने का निर्देश दिया गया है। संदिग्ध मरीजों की जांच हेतु सैंपल संग्रहित किये जायेंगे। स्क्रीनिंग के दौरान सही पाये गये व्यक्तियों को होम कोरेंटाइन हेतु वापस घर भेज दिया जायेगा।

दिये गये हैं वित्तीय दिशा निर्देश भी

कोविड 19 के सर्वे कार्य में लगे प्रत्येक दल कर्मी को प्रतिदिन 200 रुपये की दर से 8 दिनों का भुगतान किया जायेगा। वहीं कोविड 19 के सर्वे कार्य हेतु सुपरवाइजर को प्रतिदिन 400 रुपये की दर से 8 दिनों का भुगतान किया जायेगा। इसमें 300 रुपये मानदेय व 100 रुपये आने जाने के लिए दिया जाना है।

नोट – किसी भी टेक्निकल जानकारी के लिए आप imbeginner.in पर जा सकते है।