लोकसभा और विधानसभा चुनाव के तर्ज पर जिला स्तर पर होगी पंचायत चुनाव की मतगणना

0

पटना: राज्य निर्वाचन आयोग और पंचायत राज विभाग के निर्देशानुसार इस बार पंचायत चुनाव के मतों की गिनती लोकसभा और विधानसभा चुनाव के मतगणना की तर्ज पर जिलास्तर पर एक ही जगह होगी। पंचायत चुनाव के बाद मतगणना की यह नई व्यवस्था पहली बार लोगों के सामने आने वाली है। पंचायत चुनाव के विभिन्न पदों के जिले के सभी प्रखंडों के होने वाले मतदान के बाद मतों की गिनती जिला मुख्यालय में केंद्रिकृत व्यवस्था के तहत होगी। चुनाव परिणाम भी यही घोषित कर दिया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

मतगणना केन्द्र पर कम होगी भीड़

इस बार प्रखंड कार्यालय और लोकल लेवल पर वोटिंग के बाद मतगणना की होने वाली भीड़ और स्थानीय गंवई उत्साह में कमी आएगी। गांव से काफी दूर जिला मुख्यालय में मतगणना होने पर वैसे सभी लोग नहीं पहुंच पाएंगे, जो प्रखंड कार्यालय या स्थानीय स्तर पर किसी न किसी रूप में वहां जमे रहते थे। आयोग और सरकार का निर्देश मिलते ही जिला प्रशासन ने इस दिशा में काम शुरु कर दिया है। इतना ही नहीं मतगणना के लिए स्थल भी चयन कर लिया गया। हाजीपुर में वरीय अधिकारियों ने स्थानीय आईटीआई कॉलेज का निरीक्षण किया है। विभाग को भी इस बात की सूचना भेजी जा रही है। साथ ही आईटीआई कॉलेज परिसर में मतगणना की प्रशासनिक तैयारी व अन्य प्रकार की व्यवस्था शुरू करने का निर्देश दे दिया गया है।

ईवीएम और बैलेट बाक्स रखने के लिए बनेगा स्ट्रांग रूम

मतगणना स्थल पर ईवीएम और बैलेट बॉक्स रखने के लिए स्ट्रांग रूम का निर्माण कराया जाएगा। वोटिंग के बाद ईवीएम और बैलेट बॉक्स को सुरक्षित रखने के लिए स्ट्रांग रूम में रखने की व्यवस्था की जा रही है। सुरक्षा का पुख्ता प्रबंध किया जा रहा है। प्रखंडवार निर्धारित तिथि को वोटिंग के बाद ईवीएम और बैलेट बॉक्स स्ट्रांग रूम में रखने की व्यवस्था रहेगी। मतदान के बाद निर्धारित तिथि के अनुसार मतगणना केंद्र पर मतों की गिनती शुरू करा दी जाएगी। हर फेज का वोटिंग समाप्त होने के दो दिनों बाद तक सभी पदों के मतों की गिनती का काम पूरा करने के साथ ही चुनाव परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे।

मतगणना केंद्र पर सुरक्षा का रहेगा पुख्ता प्रबंध

आयोग के निर्देशानुसार पंचायत चुनाव की मतगणना में सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया जा रहा है। मतगणना में बिना पास के किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। रिटर्निंग अफसर के साथ प्रशिक्षित कर्मियों को लगाया जाएगा। निर्धारित समय से गिनती को पूरा करने के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। मतगणना के लिए कर्मियों का चयन कर प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है।

मतदान सामग्री का वितरण प्रखंड से ही होगा

पंचायत चुनाव के लिए आयोग के द्वारा निर्धारित चरण के अनुसार प्रखंड मुख्यालय से मतदान सामग्रियों के साथ कर्मियों को रवाना किया जाएगा। जिला परिषद, मुखिया, पंचायत सिमिति, वार्ड सदस्य, सरपंच और पंच सभी पदों के लिए चुनाव सामग्री संबंधित प्रखंड से वितरण कराने की व्यवस्था की गई है। साथ ही अन्य सभी कार्य प्रखंड स्तर पर संचालित होंगे। वहीं मतगणना संबंधी कार्य जिला मुख्यालय पर होगी।

क्या कहते हैं अधिकारी

अधिकारी कहते हैं कि मतों की गिनती के लिए जिला लेवल पर मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। फेज वाइज इसी मतगणना केंद्र में वोटो की गिनती होगी। वोटिंग संबंधी कार्य मतदान सामग्रियों का वितरण और पोलिंग पार्टियों को डिस्पैच करने से सहित मतदान संबंधी सारे कार्य निर्धारित प्रखंड मुख्यालय से संचालित होंगे।