गंभीर रूप से घायल चाचा-भतीजा जिंदगी व मौत से जूझ रहे

0
ghayal parivar

परवेज अख्तर/सिवान : सड़क दुर्घटना मे रविवार की रात चाचा-भतीजा की मौत के दो दिन बीतने के बाद मंगलवार को गोसोपाली गांव में सन्नाटा पसरा हुआ था। अभी परिवार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। परिवार के लोग सशंकित हैं कि फिर से कोई अशुभ बातें सुनने को न मिल जाए, क्योंकि दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल मृतक पृथ्वीनाथ उपाध्याय के एक भाई एवं एक अन्य भतीजा जिंदगी एवं मौत से जूझ रहे हैं। जिनका इनका इलाज पटना में चल रहा है। पृथ्वीनाथ के भाई बृजेश उर्फ मुनमुन उपाध्याय सड़क दुर्घटना में स्पाइनल में गंभीर रूप से घायल होने के बाद सिवान से रेफर होकर पीएमसीएच में बेड नंबर 15 पर भर्ती हैं ,जहां उनका इलाज चल रहा है। वहीं भतीजा नंदन उपाध्याय को ब्रेन में गंभीर चोट होने से पटना के ही तारा नर्सिंग होम में आइसीयू के बेड संख्या 6 पर एडमिट किया गया है। चाचा एवं भतीजा दोनों की हालत नाजुक बनी हुई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

गोसोपाली गांव में चाचा-भतीजा की मौत से आहत परिवार को लोग दे रहे सांत्वना

दरौली सड़क दुर्घटना मे मासूम भतीजा सहित चाचा की हुई मौत के बाद मित्र, रिश्तेदार, जनप्रतिनिधि एवं सामाजिक लोगों द्वारा गोसोपाली गांव पहुंच कर परिजनों को ढाढ़स एवं सांत्वना दे रहे हैं। ऐसी हृदयविदारक घटना की जानकारी जैसे ही लोगों की हुई वे गोसोपाली पहुंच परिजनों से मिल हर संभव मदद करने का आश्वासन एवं सांत्वना देने लगे। राजद की हिना शहाब, सामाजिक कार्यकर्ता मृत्युंजय सिंह, बीडीसी नबीन सिंह, आनंद बिहारी सहनी सहित कई स्थानीय जनप्रतिनिधि ने शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी।

सगे भाई ने भाई संग की मारपीट, गुमटी में आग लगाई

जिले के दरौली थाना क्षेत्र के बलहूं गांव में सोमवार की देर शाम सगे भाई द्वारा अपने ही भाई के साथ उसकी पत्नी संग मारपीट कर उसकी साइकिल एवं बाइक तोड़ गुमटी में आग लगा दी। पीड़ित भाई द्वारा मंगलवार को थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। मामले में बलहूं गांव निवासी उपेंद्र सिंह ने थाने में आवेदन दे आरोप लगाया है कि उनके सगे भाई मन्नू सिंह द्वारा मुझे एवं मेरी पत्नी के साथ मारपीट करते हुए साइकिल एवं बाइक तोड़-फोड़ कर मेरी गुमटी में भी आग लगा दी गई। इस संबंध मे थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने बताया कि आवेदन मिला है। मामले की छानबीन की जा रही है।