मुकदमा नहीं उठाने को ले दबंगों ने पूरे परिवार को पीटा

0
parivar ko pita

एक माह पूर्व दबंगों के विरुद्ध हुई थी छेड़खानी की प्राथमिकी

सभी घायल मैरवा के बाद सिवान रेफर

पीड़िता के पिता की पूर्व में हो चुकी है गोली मार हत्या

परवेज़ अख्तर/ सिवान:- जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के कबीरपुर मौजे भरवा टोली गांव में दबंगों ने छेड़खानी का मुकदमा वापस नहीं लेने पर पीड़िता समेत पूरे परिवार के सदस्यों को बेरहमी से पिटाई कर डाली। सभी घायलों का इलाज मैरवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया गया जहां से चिकित्सकों ने सभी घायलों को सिवान सदर अस्पताल रेफर कर दिया। घायलों में ताज मोहम्मद की विधवा मुन्नी बेगम, पुत्र गुड्डू अहमद, पुत्री रबीना खातून, सोनी खातून एवं शबीना खातून शामिल हैं। घायलों में रबीना खातून की हालत गंभीर बनी हुई है। उसका दाहिना पैर टूट गया है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि कबीरपुर मौजे भरवा टोली निवासी ताज मोहम्मद की पुत्री सोनी खातून विगत 8 मई,18 को अपने घर में अकेली थी। इसी बीच गांव के ही कमलेश राजभर, विजय राजभर, दीनानाथ राजभर घर में घुस कर उसके साथ जबरदस्ती का प्रयास किया।  इसमें असफल होने पर मनचलों ने सोनी खातून की जबरदस्त पिटाई भी की थी।
बाद में उक्त घटना की प्राथमिकी एसपी नवीनचंद्र झा के जनता दरबार में जाने के बाद दर्ज कराई गई थी। उसी घटना से नाराज कमलेश राजभर के परिजनों ने पूव्र के भूमि विवाद बता कर गाली-गलौज करने लगे। गाली-गलौज करने के कारण पूछने पर कमलेश राजभर के परिजनों ने पीड़िता के दरवाजे पर आकर अचानक हमला बोल दिया जिसमें विधवा मुन्नी बेगम, पीड़िता के भाई गुड्डू अहमद, पुत्री क्रमश: रबीना खातून, शबीना खातून गंभीर रूप से घायल हो गई। ज्ञात हो कि सोनी खातून के पिता ताज मोहम्मद की गोली मारकर हत्या 19 दिसंबर 99 को नौतन से दुकान बंद कर लौटते समय
अपराधियों ने रामगढ़ नहर पुल के पास कर दी थी। बता दें कि ताज मोहम्मद की विधवा मुन्नी बेगम बुधवार को अपने जमीन में ईंट गिरवा रही थी तभी गांव के ही भगन राजभर आ धमके और गाली-गलौज करने लगे। विरोध करने पर भगन राजभर के पूरे परिवार के लोग आकर उसे पिटाई करने लगे और कहने लगे कि पुराना वाला मुकदमा उठा लो नहीं तो अंजाम बुरा होगा। पीड़िता सोनी खातून ने बताया कि हम सभी गरीब हैं। इसलिए दबंगों द्वारा गांव में आए दिन हमलोगों के साथ अप्रिय घटना घटित होते रहती है। पीड़िता ने बताया कि स्थानीय थाना द्वारा मदद नहीं मिलने से हम सभी पूरा परिवार खौफजदा हैं तथा दहशत के साए में जी रहे हैं और घटना को अंजाम देने वाले यह भी धमकी दे रहे हैं कि अगर मुकदमा करोगी तो पूरे परिवार को जिंदगी से हाथ धाना पड़ेगा। पीड़ित सोनी खातून ने बताया कि पूर्व में हुए मेरे पिता ताज मोहम्मद की गोली मारकर हत्या के बाद से हम सभी हमेशा भयभीत रहते हैं और स्थानीय पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती है।