माता के विसर्जन में पहुंचे भक्तों की नम हुई आंखें

0
durga visarjan

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के मैरवा, भगवानपुर, हसनपुरा, रघुनाथपुर आदि प्रखंडों में बुधवार का मां दुर्गा समेत अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाओं का विसर्जन बैंड बाजे एवं नम आंखों से दी गई। इस दौरान मां को अगले साल पुन:आने का निमंत्रण भी दिया गया। इस दौरान मां की जयकार एवं भक्तिगीतों से वातावरण भक्तिमय हो गया था। इसके पूर्व पूजा स्थल पर मां की पूजा, आरती की गई तथा महिलाओं ने खोइंचा भरा इसके बाद प्रसाद का वितरण किया गया। इसके बाद प्रतिमाओं का वाहन पर रख नजदीक के तालाब एवं नदी में बैंड बाजे के साथ ले जाया गया। विधि-व्यवस्था शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए प्रशासन अलर्ट रहा। भगवानपुर प्रखंड के सारीपट्टी रौनक नगर दुर्गा पूजा समिति द्वारा पूर्णिमा तिथि को मां की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। प्रतिमा विसर्जन के समय पूजा समिति के अध्यक्ष रघुवर पांडेय, सचिव ललित मोहन, कोषाध्यक्ष मुकेश सिंह, भिखारी सिंह, मंटू सिंह, सोनू सिंह, बुलेट ब्रह्मचारी, सुनील सिंह, प्रभुनाथ उपाध्याय आदि भारी संख्या में गांव के लोग गांव के ही रौनक सरोवर तक गए एवं वहां मां दुर्गा सहित सभी प्रतिमाओं का विधि पूर्वक विसर्जन किया गया। रघुनाथपुर प्रखंड के आदर्श ग्राम नरहन बुधवार को प्रतिमा विसर्जन नम आंखों से किया गया। जिस दौरान उतर बिहार की प्रसिद्ध झांकियों को प्रदर्शन किया गया। आज नरहन, हरपुर, नवादा, बनकट, धनौती खाप, रघुनाथपुर, राजपुर, मिर्जापुर, सलेमपुर, ललहादपुर गांव होते हुए सरयू नदी के तट पर प्रतिमा विसर्जन किया गया। वहीं इस दौरान झांकियों में रामायण, महाभारत,सामाजिक, झांकियों का प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर बीडीओ संतोष कुमार मिश्र, सीओ सुगाली सेठ, थानाध्यक्ष राकेश कुमार भी मेला की सुरक्षा के लिए गश्त कर रहे थे। मैरवा में देवी प्रतिमाओं का विसर्जन जुलूस बुधवार को शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। हाथी घोड़े और गाजे बाजे के साथ जुलूस निकाला गया। जुलूस में पुलिस काफी संख्या में तैनात की गई थी। महिला पुलिस भी तैनात रही। अखाड़ा नंबर एक निकाला गया। यह अखाड़ा चंदनिया डीह दुर्गा मंदिर पहुंचा। आरती एवं पूजा के बाद स्टेशन चौक पहुंचा। इस अखाड़े के पीछे नगर पंचायत क्षेत्र के अन्य अखाड़े चल पड़े। अखाड़े में भक्ति गीतों पर युवक झूमते दिखे। देवी के जयकारे से वातावरण गुंजमान रहा। पुरानी बाजार में अभिनेता नागेंद्र उजाला और लोक गायिका राजनंदनी के गीतों पर श्रोता खूब झूमे। वहीं हसनपुरा के सहुली में मां की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। इस मौके पर काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal