दरौंदा: पुलिस की कार्यशैली से गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

0
virodh
  • पचास हजार रुपए की रगंदारी की मांग की गयी थी जिसे नहीं देने पर घटना को अंजाम देने का लगाया आरोप
  • जानबूझकर दोनों पक्ष से एफआईआर दर्ज किया है
  • ग्रामीणों ने सड़क पर टायर जलाकर विरोध जताया
  • 04 घंटे तक सड़क पर आवागमन रहा बाधित
  • 02 दिन में आरोपित की गिरफ्तारी का आश्वासन

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दरौंदा थाना क्षेत्र के फलपुरा गांव में 21 दिसंबर को हुई चाकूबाजी की घटना के बाद पुलिस की निष्क्रियता से क्षुब्ध ग्रामीणों ने बुधवार को मांझी-बरौली सड़क को डीबी-चंचौरा बाजार पर जाम कर दिया। ग्रामीणों ने सड़क पर टायर जलाकर विरोध जताया। ग्रामीण इस दौरान पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। ग्रामीणों का कहना था कि 21 दिसम्बर को डीबी निवासी रविन्द्र प्रसाद का पुत्र पिंकू कुमार फलपुरा गांव में ट्रैक्टर राइस मिल चला रहा था। इसी दौरान उसे चाकू मारकर घायल कर दिया गया। अगले दिन घायल युवक के भाई डिब्बी निवासी राजेश कुमार प्रसाद द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई। जिसमें कहा गया है कि मेरे भाई पिंकू कुमार ट्रैक्टर राइस मिल लेकर फलपुरा में धान कूट रहा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

इसी दौरान फलपुरा निवासी मुरारी कुमार सिंह गाली-गलौज करते हुए मेरे भाई को चाकू मारकर घायल कर दिया। ग्रामीणों की मदद से घायल को सीएचसी दरौंदा पहुंचाया गया। जहां से डॉक्टर ने उसे सीवान रेफर कर दिया। इसके पहले भी पचास हजार रुपये की रगंदारी की मांग की गयी थी। जिसे नहीं देने पर घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने जानबूझ कर दोनों पक्ष से एफआईआर दर्ज कर लिया। अभी तक आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस जानबूझकर इस घटना की लीपापोती का प्रयास कर रही है। इसी को लेकर बुधवार को ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा। इसके बाद ग्रामीणों ने सुबह 8 बजे सड़क पर टायर जला सड़क जाम कर दिया।

 

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here