आक्रोश की “आग” से दहला दरभंगा !…रणक्षेत्र में तब्दील हुआ दरभंगा का DMCH, मेडिकल छात्रों ने कई गाड़ियों व दुकानों को किया आग के हवाले…

0

पटना: दरभंगा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल परिसर बना युद्ध-भूमि सूचना के अनुसार मेडिकल छात्र और स्थानीय दवा दुकानदार के साथ बात इतनी बढ़ गई के दोनों पक्षों में ईंट-रोडेबाजी लाठी-डंडे के साथ मेडिकल छात्रों ने दो दवाई दुकान को आग के हवाले कर दिया साथ में खड़े वहीं 2 चार चक्का वाहन एवं दोपहिया वाहन को भी आग लगा दी। दवा दुकान में आग इतना भयंकर था के वहां रखें गैस सिलेंडर इतना जोरदार धमाका हुआ कि आसपास का इलाका दहल गया। छात्रों की करतूत को देखते हुए बगल के मोहल्ले वालों ने उन लोगों पर पथराव किया। वहीं दवा दुकानदारों का गुस्सा फूट पड़ा है..दवा दुकानदार मेडिकल छात्रों के द्वारा हिंसक उपद्रव का विरोध करते हुए सड़कों पर उतर आए हैं..व्यवसायियों ने नाका नंबर 6 के पास सड़क जाम कर विरोध जताया है..तमाम दवा व्यवसाई शहर के दवा दुकान बंद का आह्वान किया है..दवा व्यवसायियों का कहना है आरोपी की गिरफ्तारी व उचित कार्रवाई नहीं होने तक ये सिलसिला जारी रहेगा…

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

इस दौरान फायरिंग और बम की आवाज भी सुनने की बात कही जा रही है। बताया जाता है कि इस दौरान दोनों ओर से पथराव भी हुआ। इस घटना में तीन ,चार पुलिस कर्मी घायल हुए तो वहीं दो महिला पुलिस कर्मी के घायल होने की भी सूचना हैं। घटना की सूचना मिलने पर बेंता ओपी की पुलिस वहां पहुंची। हालांकि वहां की स्थिति देख अतिरिक्त पुलिस बल की मांग की गई। सूचना मिलने पर सदर एसडीपीओ सहित कई थानों की पुलिस वहां पहुंची। दंगा नियंत्रण बल को भी वहां बुलाया गया। आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड को बुलाया गया। इस दौरान एक रसोई गैस सिलिंडर में विस्फोट होने से फायर ब्रिगेड के कर्मी भी घायल हो गए। खबर लिखे जाने तक वहां स्थिति विस्फोटक बानी हुई थी।

बगल के मोहल्ले के दर्जनों लोग घटना के खिलाफ सड़क पर उतर गए हैं। पुलिस स्थिति को नियंत्रण करने का प्रयास कर रही है। सदर एसडीपीओ कृष्ण नंदन कुमार ने बताया कि स्थिति को नियंत्रित कर लिया गया है। आग को बुझाने का प्रयास किया जा रहा है। प्रशासन द्वारा आरोपियों की पुष्टि कर कठोर करवाई की आश्वासन दिया गया है। वहीं स्थानीय लोगों ने कहा हमनें आज तक इतना बड़ा दंगा नहीं देखा जो छात्र मेडिकल कॉलेज में पढ़ने आते हैं वो इस तरह से गुंडई करेंगे हम लोगों ने सोचा तक नहीं था और इनका पुराना रवैया है।