दारौंदा: रंगदारी नहीं देने पर बदमाशों ने दी पेट्रोल पंप बम से उड़ाने व हत्या की धमकी

0

रंगदारी मांगने के मामले में हुई दो प्राथमिकी

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दारौंदा थाना क्षेत्र के बालबंगरा स्थित पेट्रोल पंप के संचालक से तीन लाख एवं कोआपरेटिव बैंक के सेवानिवृत्त कर्मी के घर फायरिंग कर बदमाशों ने चार लाख रुपये की रंगदारी मांगी है। रंगदारी नहीं देने पर पेट्रोल पंप को बम से उड़ाने एवं स्वजनों को गोली मारकर हत्या करने की धमकी दी गई है। इस मामले में थाने में अगल-अलग प्राथमिकी हुई है। इस मामले में पेट्रोल पंप संचालक प्रसुन कुमार ने दारौंदा थाना कांड संख्या 320/22 मामले में प्राथमिकी कराई है। उसने आरोप लगाया है कि हमारे छोटे भाई अनुज कुमार बालबंगरा मोड़ स्थित पेट्रोल पंप का संचालन करते हैं। विगत सितंबर 2022 में बालबंगरा निवासी रोहित यादव एवं अन्य द्वारा तीन लाख रुपये की रंगदारी की मांग की जा रही थी।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

इस मामले में तत्कालीन थानाध्यक्ष को इसकी सूचना दी गई थी लेकिन उनके द्वारा कोई कार्रवाई की गई। पुनः बदमाशों ने 18 नवंबर से मेरे भाई अनुज कुमार के मोबाइल नंबर पर दो वाहट्सएप नंबर से काल एवं मैसेज कर तीन लाख रुपये रंगदारी नहीं देने पर पेट्रोल पंप को बम मारकर उड़ा देने तथा परिवार के सदस्यों की हत्या करने की धमकी दी। वहीं दूसरी घटना भी इसी गांव बालबंगरा की है।

कोआपरेटिव बैंक के सेवानिवृत्त कर्मी प्रेमशंकर प्रसाद श्रीवास्तव ने अपने आवेदन में कहा है कि उनके दरवाजे पर 21 नवंबर की शाम करीब सात बजे दो बदमाश पहुंचे और स्वजनों से रोहित भैया द्वारा मांगी गई रंगदारी को जल्द देने की बात कही। रंगदारी देने से इन्कार करने पर दोनों बदमारशों ने घर के बरामदे में फायरिंग कर दहशत फैला दी। इस क्रम में मैं बाल-बाल बच गया। इस मामले में प्रेमशंकर प्रसाद श्रीवास्तव के बयान पर दारौंदा थाना कांड संख्या 317/22 प्राथमिकी हुई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मेरे दो पुत्र विवेक आनंद एवं विकास आनंद हैं। मेरे बड़े पुुत्र विवेक आनंद के मोबाइल पर लगातार काल कर चार लाख रुपये देने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। नहीं देने पर छोटे भाई को गोली मारकर हत्या कर देने की धमकी दी जा रही है। इस संबंध में थानाध्यक्ष मनोज कुमार प्रभाकर ने बताया कि आरोपित की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।