लकड़ी नबीगंज में हत्या कर युवक का शव तालाब में फेंका, सनसनी

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के लकड़ी नबीगंज ओपी क्षेत्र के किशुनपुरा गांव स्थित मनसा बाबा स्थल स्थित तालाब में सोमवार की सुबह एक युवक का शव देख ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचित किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। युवक की पहचान लखनौरा निवासी असलम अंसारी के पुत्र परवेज अंसारी उर्फ परवेज आलम के रूप में हुई है। इस घटना के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। स्वजनों ने अज्ञात के विरुद्ध हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। वहीं घटना के बाद तरह तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। ग्रामीणों के अनुसार, युवक की हत्या कहीं और कर साक्ष्य छुपाने के लिए तालाब में शव को फेंक दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। युवक परवेज के गले और चेहरे पर चोट के निशान पाए गए हैं। बताया जाता है कि परवेज रविवार की रात करीब 10 बजे शौच के लिए घर से निकला था। जब वह काफी देर तक घर नहीं लौटा तो स्वजनों को चिता हुई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

स्वजन उसकी खोजबीन करने लगे, लेकिन कहीं उसका पता नहीं चला। तभी सोमवार की सुबह किशुनपुरा गांव स्थित मनसा बाबा तालाब के पास ग्रामीण गए तो एक शव दिखाई दिया। शव मिलने की सूचना पर काफी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। ग्रामीणों ने शव की पहचान लखनौरा निवासी असलम अंसारी के पुत्र परवेज अंसारी के रूप में की और इसकी सूचना स्वजन तथा पुलिस को दी। सूचना मिलते ही ओपी प्रभारी कुंजबिहारी राय, एएसआइ एस अहमद, वीरबहादुर सिंह अन्य पुलिस के साथ वहां पहुंच घटना का जायजा लिया और शव को पोस्टकॅर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। इस संबंध में युवक के चचेरे भाई आफताब आलम ने अज्ञात के विरुद्ध हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस विभिन्न बिदुओं पर जांच कर रही है।

स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल

ओपी क्षेत्र के किशुनपुरा मनसा बाबा तालाब के पास से लखनौरा निवासी असलम अंसारी के पुत्र परवेज अंसारी उर्फ परवेज आलम का शव मिलने के बाद मृतक की मां राबिया खातून, पिता असलम अंसारी समेत अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। राबिया खातून पुत्र की मौत के गम में रोते-रोते बेहोश हो जा रही थी। आसपास की महिलाएं उसे सांत्वना दे रहीं थीं। मृतक चार भाइयों में सबसे छोटा था। इसकी सूचना मिलने पर सामाजिक कार्यकर्ता रमेश सिंह, राकेश सिंह, उर्फ पाल सिंह, सरपंच प्रतिनिधि विनोद सिंह आदि ने स्वजनों को ढाढ़स बंधाते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

परवेज की मौत के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म

परवेज की मौत के बाद क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। स्वजन हत्या की आशंका जता रहे थे। वहीं स्वजनों का कहना था कि परवेज का किसी से कोई विवाद नहीं था, लेकिन उसकी मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया। पुलिस विभिन्न बिदुओं पर जांच कर रही है। मृतक के मुंह और गले पर चोट के निशान मिले हैं। स्वजन उसकी हत्या अन्यत्र कर साक्ष्य छुपाने के लिए किशुनपुरा मनसा बाबा तालाब में फेंके जाने की आशंका व्यक्त कर रहे थे। ओपी प्रभारी ने बताया कि शीघ्र ही घटना का पर्दाफाश कर दोषियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। घटना के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है।