सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की इलाज के क्रम में मौत

0

परवेज़ अख्तर/सीवान :- जिले के पचरुखी थाना क्षेत्र के जसौली पकौली गांव के समीप विगत 2 मई को हुई सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मौत इलाज के दौरान पटना में 48 दिन बाद मंगलवार की अल सुबह हो गई। मृतक इसी थाने के बसंत कुमार सिंह 35 वर्षीय पुत्र अविनाश कुमार सिंह उर्फ विक्कू सिंह था। बता दें कि अविनाश कुमार सिंह उर्फ विक्कू सिंह विगत 2 मई को बाइक पर सवार होकर पचरुखी बाजार से अपने घर लौट रहे थे तभी जसौली-पकौली गांव के समीप एक अनियंत्रित एसक्यूवी की चपेट में आ गए और गंभीर रूप से घायल हो गए थे। आनन-फानन में परिजनों ने उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से चिकित्सकों ने उन्हें पटना रेफर कर दिया था। घटना को अंजाम देने के बाद चालक गाड़ी छोड़कर फरार हो गया था। मंगलवार की अल सुबह घायल अविनाश कुमार सिंह उर्फ विक्कू सिंह ने अंतिम सांस ली। उधर इस घटना को लेकर घायल के पिता बसंत कुमार सिंह के बयान पर पचरुखी थाने में प्राथमिकी कांड सं. 118/18 दर्ज कराई गई थी। परिजनों एवं ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त चार पहिया वाहन को घटना के दिन ही जब्त कर लिया था। इस बाबत थानाध्यक्ष अमित मुकेश कुमार ने बताया कि घायल अविनाश कुमार सिंह उर्फ विक्कू सिंह की मौत के बाद शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि आगे की कार्रवाई वरीय पुलिस पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में की जाएगी।

शव पहुंचते ही मचा कोहराम

अविनाश कुमार सिंह उर्फ विक्कू सिंह की मौत के बाद जैसे ही पोस्टमार्टम के बाद शव गांव में पहुंचा परिजनों के चीत्कार से कोहराम मच गया। पत्नी नीतू देवी समेत अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। आसपास की महिलाएं उसे किसी तरह संभाल रही थी। पत्नी अपने पति को याद कर बार-बार बेहोश हो जा रही थी जिसे आसपास की महिलाएं संभाल एवं सांत्वना दिला रही थी। अविनाश की आठ वर्ष की बच्ची दृष्टि कुमारी भी बार-बार अपने पिता को देख रो रही थी। पत्नी एवं बच्ची के हृदय विदारक विलाप से वहां उपस्थित लोगों की आंखें भी नम हो जा रही थीं। वहीं अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल था।

Loading...