शव को सड़क पर रख आरोपियों की गिरफ्तारी को ले प्रदर्शन

0
sadak jaam

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के जामो थाना क्षेत्र के सैदपुर गांव में शुक्रवार की दोपहर नाली में पानी गिराने के विवाद में हुई दो पक्षों के बीच मारपीट में एक वृद्ध समेत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे। इस विवाद में वृद्ध अदालत मांझी की मौत इलाज के दौरान शनिवार को हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। इसके बाद जब मृतक अदालत मांझी का शव पोस्टमार्टम करा शनिवार की शाम उनके पैतृक गांव पहुंचा तो आक्रोशितों ने बीच सड़क पर शव को रखकर जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। घायल के परिजन समेत अन्य ग्रामीणों ने शव को बलडिहा-सिधवलिया सड़क पर रखकर आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया तथा आवागमन बाधित कर दिया। सूचना मिलते ही महाराजगंज एसडीपीओ संजय कुमार सिंह, पुलिस इंस्पेक्टर वकील अहमद, बसंतपुर थानाध्यक्ष उदय कुमार, गोरेयाकोठी थानाध्यक्ष उदय कुमार सिंह, जामो थानाध्यक्ष नौशाद आलम पहुंचकर ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत कराया। साथ ही महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल की पहल पर हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी के आश्वासन पर जाम हटा। इसके बाद ग्रामीण शव का दाह संस्कार कर दिए। इस मौके पर बसंतपुर बीजेपी अध्यछ रंजीत प्रसाद, नबीगंज भाजपा प्रखंड अध्यक्ष अखिलेश पांडेय, त्रिभवन राम, त्रिभुवन सिंह, पूर्व शंभू साह, ब्रजेंद्र सिंह उर्फ पप्पू, राजेश्वर सिंह, महातम राय, बीडीसी सुनील राय समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे। ज्ञात हो कि इस घटना में अक्षय कुमार, धर्मेंद्र मांझी, तूफान मांझी, चंद्रावती देवी, छठिया देवी, मांति देवी। इस संबंध में मृतक के पुत्र अक्षय कुमार मांझी के बयान पर गांव के ही रुदल मांझी, मोहर मांझी, अल्लाह मांझी, इंदल मांझी, नागेंद्र मांझी, शैलेश मांझी समेत अन्य को आरोपित किया है।