डेंगू पीड़ित महिला की इलाज के दौरान मौत

0
dengue se maut

परवेज अख्तर/सिवान: शहर में डेंगू से मौत का एक नया मामला सामने आ गया है। सोमवार को दखिन टोला के शहदानी चौक निवासी अनवर मियां की पत्नी बेबी खातून(45) का लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गई। भले ही सरकारी आंकड़ों में अब तक शहर में डेंगू से मौत का मामला दर्ज नहीं किया गया हो, लेकिन शुक्रवार को यहां डेंगू से तीसरी मौत का मामला सामने आ गया है। बताया जा रहा है कि बेबी डेंगू पीड़ित थी। शहर के एक निजी डॉक्टर से उनका इलाज चल रहा था। शुक्रवार को अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए। जहां से उसे गोरखपुर रेफर कर दिया गया। वहीं गोरखपुर के डॉक्टर ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए बेबी को पीजीआई रेफर कर दिया। लखनऊ में ही सोमवार को उसकी मौत हो गयी। परिजनों का कहना है कि बेबी का प्लेटलेट्स लगाता गिरता जा रहा था। जिससे उसकी मौत हो गई। इधर बेबी की मौत की खबर सुनकर परिवार के लोगों का रो रोकर बुरा हाल है। बेबी का पुत्र मजीद अली ने बताया कि उनकी मां का एनएस वन पॉजीटिव पाया गया था। बेबी की मौत से इलाके के लोगों में एक बार फिर डेंगू से दहशत बढ़ गया है। गौरतलब है कि इससे पहले 5 अक्टूबर को शुक्लटोली के मालिकटोला निवासी मो शकील की पुत्री शकीला की डेंगू से पटना में मौत हो गई थी। वहीं 7 अक्टूबर को तरवारा का रहने वाला छात्र अभिषेक की सदर अस्पताल में मौत हो गई थी। अभिषेक का एनएस वन पॉजिटिव आया था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.45 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.42 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.43 PM (1)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.44 PM (2)
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.42 PM
WhatsApp Image 2022-08-16 at 8.56.43 PM

नप व स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा

डेंगू से मौत के बाद मोहल्ले के लोगों में नगर परिषद् व स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा है। मोहल्ले के निवासी व जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया से रिटायर्ड रिजवान अहमद ने बताया कि डेंगू से पूरा देश दहशत में है, लेकिन यहां का स्वास्थ्य व नगर परिषद् लापरवाही की हदें पार कर रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि एंटी डेंगू कैंप के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग डेंगू की मरीजों की संख्या को छिपाने में जुटा है। वहीं उन्होंने नगर परिषद् पर फॉगिंग नहीं कराने का आरोप लगाया है। वहीं मोहल्ले के ही सैयद इमाम ने बताया कि डेंगू का मामला जोर पकड़ने के बाद नगर परिषद् ने मोहल्ले में फॉगिंग का कोरम पूरा किया था। इस दौरान उसकी गाड़ी मोहल्ले में इतनी तेज गति से गुजरी थी कि घरों का मच्छर मरना तो दूर सड़क के मच्छर भी लोगों के घरों में घुस गए थे।dengue se maut par hangama

आज से 7 दिनों तक इलाके में एंटी डेंगू कैंप

डेंगू की मरीजों के बढ़ते तादाद को देख स्वास्थ्य विभाग ने शहर के पुरानी किला, शहदानी चौक, वार्ड संख्या 21, चिक टोली, शेख मोहल्ला में एक सप्ताह तक एंटी डेंगू कैंप लगा रहा है। सिविल सर्जन डॉ शिवचंद्र झा ने बताया कि इस दौरान दो डॉक्टर, एलटी व पैरामेडिकल स्टॉफ की टीम मौजूद रहेगी।