डीआईजी ने रोहित हत्याकांड का किया जांच , एसपी मनोज तिवारी भी रहे मौजूद

0

परवेज अख्तर/गोपालगंज :- जिले में लगातार बढ़ रहे आपराधिक वारदातों से जिलेभर के आम व खास लोगों में काफी भय व दहशत का माहौल व्याप्त होते जा रहा है। इसी कड़ी में कटेया थाना क्षेत्र के बेलही डीह खनुआ नदी से विगत दिनों एक युवक का शव बरामद किया गया था। जिसकी पहचान बेलही डीह गांव निवासी राजेश शाह के पुत्र रोहित के रूप में की गई। जिसको लेकर थाने में छह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इस कांड को लेकर कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर कुछ खबर चलाए जा रहे हैं। जिसको लेकर प्रशासन सकते में हैं। सोशल मीडिया पर चल रही खबर से सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने के डर से प्रशासन के माथे पर चिंता की लकीरें दिख रही हैं। इसी क्रम में आज सारण डीआईजी विजय कुमार वर्मा, पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार तिवारी, डीएसपी अशोक चौधरी व कई अन्य वरीय पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचकर घटना का जांच किया। इस कांड में 6 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है। जिसमें पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 5 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

गिरफ्तार पांचों अभियुक्तों में चार नाबालिग थे। जिसको जुवेनाइल कोर्ट ने बॉन्ड भरवा कोरोना वायरस महामारी को लेकर अवकाश पर छोड़ा है। वही एक अभियुक्त अभी भी फरार चल रहा है। दर्ज प्राथमिकी में सभी बच्चे राहुल को खेलने के लिए बुलाकर ले गए और हत्या करके उसके शव को नदी में फेंक देने का मामला बताया गया है।

वही सोशल मीडिया पर इस मामले में सांप्रदायिक मामले को लेकर हत्या की बात को दिखाई जा रही है। जिसकी वास्तविक जानकारी लेने सारण डीआईजी के साथ वरीय पदाधिकारी घटनास्थल,पीड़ित के गांव बेलही डीह, पीड़ित के घर,मस्जिद एवं अभियुक्त के घर के पास जाकर भी जांच किया। साथ ही उन्होंने भरोसा दिलाया कि मामले की सच्चाई को सामने लाया जाएगा।