राजेंद्र कुष्ठ सेवाश्रम की दुर्दशा पर बिखरे जिला जज

0
JUJ

परवेज अख्तर/सीवान:- कोरोना संक्रमण में राहत और जागरूकता के क्रम में जिला जज मनोज शंकर ने राजेन्द्र कुष्ठ सेवा आश्रम मैरवा का दौरा कर उसका जाएजा लिया। इस क्रम में एशिया का चर्चित कुष्ठ आश्रम एवं कुष्ठ रोगियों के लिये बने 200 बेड का अस्पताल का निरीक्षण किया तथा वहा उपस्थित रोगियों का कुशल क्षेम जाना। जीर्ण शीर्ण हो चुके अस्पताल एवं वहाँ चंद रोगियों तथा कर्मचारियों की व्यथा सुनकर जिला जज ने अफसोस जताते हुए कहा कि ऐसे संस्थानों की उपेक्षा सरकार एवं प्रबंध समिती की उदासीनता का परिचायक है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

श्री शंकर ने उपस्थित रोगियों ओर कर्मचारियों को इस संस्थान की पुनरुद्धार करने का अस्वासन दिया। विदित हो कि इस आश्रम का शिलान्यास देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद के कर कमलों द्वारा किया गया। प्रसिद्ध समाजसेवी पंडित जगदीश दिन जिन्हें क्षेत्र में दिन जी के नाम से जानते है। इनके मरणोपरांत इस संस्थान की स्थिति अत्यंत दयनीय हो गई है तथा यह के कर्मचारी ओर रोगी इलाज ओर वेतन के अभाव में भुखमरी के कगार पर है। जिला जज के निरीक्षण से यहां के कर्मियो में संस्थान की हालत के सुधरने की उम्मीद जगी है।

तत्पश्चात जिला जज ने संस्थान में रह रहे रोगियों तथा मैरवा स्टेशन के समीप रह रहे कुष्ठ पीड़ितों के सैकड़ो परिवारों को कच्चा अन्न, साबुन, बिस्कुट, मास्क समेत आवश्यक सामग्रियों का वितरण किया। इस अवसर पर ए डी जे 5 सुधीर कुमार सिन्हा, डी एल एस ए के सचिव एन के प्रियदर्शी ,पैनल अधिवक्ता डॉ विजय कुमार पांडेय,कोआर्डिनेशन कमेटी के सदस्य राजीव रंजन राजू,वरीय अधिवक्ता राजेश कुमार सिंह,समाजसेवी गोपालजी शाही समेत प्राधिकार कर्मी रंजीत दुबे,बलवंत सिंह, मनीष कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।