कोविड केयर सेंटर का डीएम ने किया निरीक्षण, 22 ऑक्सीजन युक्त अतिरिक्त बेड तैयार

0
  • अनुपस्थित चिकित्सकों का प्रतिवेदन भेजना करे सुनिश्चित
  • निरीक्षण के दौरान डीएम ने सिविल सर्जन को दिए कई आवश्यक निर्देश

छपरा: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन लगातार प्रयास कर रहा है। जिलाधिकारी डॉ निलेश रामचंद्र देवरे प्रतिदिन इसकी समीक्षा तथा मॉनिटरिंग कर रहे हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को जिलाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे ने सदर अस्पताल स्थित कोविड केयर सेंटर निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन और डीपीएम को कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए। डीएम ने कोविड केयर सेंटर में बेड की उपलब्धता भर्ती मरीजों की संख्या, साफ सफाई समेत मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने पूर्व में दिए गए निर्देश के तहत कोविड केयर सेंटर में अतिरिक्त बेड की उपलब्धता की भी जानकारी ली। इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन युक्त 22 अतिरिक्त बेड तैयार कर लिया गया है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि कोविड केयर सेंटर में आने वाले सभी मरीजों का भर्ती किया जाना सुनिश्चित करें। सभी मरीजों का बेहतर उपचार कर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें। इस दौरान जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि मरीजों के इलाज के लिए सभी आवश्यक संसाधनों को अधिक से अधिक खरीदारी कर उपलब्ध रखें। डीएम ने कहा कि लगातार अनुपस्थित रहने वाले चिकित्सकों का प्रतिवेदन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। ताकि उक्त चिकित्सकों के विरुद्ध निलंबन की कार्रवाई करते हुए आपदा प्रबंधन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

WhatsApp Image 2021 05 04 at 5.46.02 PM

अनावश्यक रूप से ना लगाएं भीड़

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 सेंटर में मरीजों के परिजन अनावश्यक रूप से भीड़ न लगाएं । किसी भी परिजन को अंदर प्रवेश करने की अनुमति नहीं है । परिजन अगर भीड़ लगाते हैं तो इससे संक्रमण फैलने की खतरा अधिक है। उन्होंने अपील किया कि कोई भी व्यक्ति अनावश्यक रूप से कोविड-19 सेंटर के अंदर प्रवेश न करें।

ठीक हो चुके मरीजों को दूसरे वार्ड में करे शिफ्ट

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे ने निर्देशित करते हुए कहा कि कोविड-19 सेंटर में भर्ती मरीजों को अगर ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है तो वैसे मरीजों को दूसरे वार्ड में शिफ्ट करें। ताकि जरूरतमंद मरीज को ऑक्सीजन युक्त बेड उपलब्ध हो सके। इससे कोविड-19 सेंटर में दबाव भी कम होगा। डीएम ने कहा कि भर्ती मरीजों को समय से दवा उपलब्ध कराएं इसके साथ ही साथ भोजन व नाश्ता काफी समय से प्रबंध करें। मरीजों को किसी तरह की परेशानी ना हो इसका विशेष रूप से ख्याल रखें। वार्ड में नियमित रूप से साफ सफाई कराते रहें।

घबराए नहीं परिजन, सभी आवश्यक सुविधा है उपलब्ध

जिलाधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए बेहतर सुविधा उपलब्ध है। परिजनों की घबराने की आवश्यकता नहीं है। सभी आवश्यक दवाओं उपकरणों व संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। कोविड केयर सेंटर में 200 बेड तथा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में 200 बेड के अतिरिक्त ऑक्सीजन युक्त 22 बेड की व्यवस्था की गई है। वही सोनपुर अनुमंडलीय अस्पताल में भी 75 बेड की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। कोविड-19 रोस्टर के अनुसार चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी के अलावे एडीएम डॉ गगन, सिविल सर्जन डॉ जनार्दन प्रसाद सुकुमार, डीपीएम अरविंद कुमार, डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, डीएमईओ भानु शर्मा, हेल्थ मैनेजर राजेश्वर प्रसाद समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।