बड़हरिया में दहेज में बुलेट नहीं मिलने पर दहेजलोभियों ने की नवविवाहिता की हत्या

0
dowry murder

सुरालवालों ने लाश किया गायब

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के बड़हरिया थाना क्षेत्र के हरदिया गांव के ज्ञानी प्रसाद की पुत्री पुतुल कुमारी (20) के दहेज लोभी ससुरालवालों ने मंगलवार को महज बुलेट मोटर साइकिल के लिए उसकी हत्या कर दी. वहीं पुतली कुमारी के पिता का आरोप है कि कि उनकी पुत्री पुतुल कुमारी की हत्या करने बाद ससुरालवालों ने साक्ष्य मिटाने के लिए आनन-फानन में शव को जलाकर नदी में फेंक दिया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

घटना की सूचना मिलते ही पुतुल कुमारी के मायके हरदियां में कोहराम मच गया है. घटना की सूचना मिलने पर पुतली कुमारी के पिता ज्ञानी प्रसाद अपने परिजनों के साथ पुतुल कुमारी के ससुराल गोपालगंज जिले के महम्मदपुर थाना क्षेत्र के अमनपुरा पहुंचे तो घर में ताला लटका था व ससुराल वाले घर छोड़कर फरार थे. मृतिका पुतुल कुमारी के पिता ज्ञानी प्रसाद ने महमदपुर थाना में दहेज लोभी ससुरालवालों द्वारा दहेज में बुलेट मोटरसाइकिल नहीं देने पर मार डालने व अधजले शव को नदी में फेंक कर साक्ष्य मिटाने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी है.

मृतिका के पिता ने अपने आवेदन में अपनी बेटी पुतली के पति बीरजू प्रसाद, भसुर अरविंद प्रसाद ,गोतनी कुसुम देवी, अरुण,अर्जुन व सास सहित आधा दर्जन लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया है. पुलिस के रवैया से मृतिका के पिता ज्ञानी प्रसाद काफी क्षुब्ध हैं.  हालांकि महमदपुर थाने की पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पुतुल कुमारी के पति बीरजू प्रसाद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. ज्ञानी प्रसाद ने बताया कि उनकी बेटी पुतली कुमारी की शादी छह मई, 2019 को गोपलगंज जिला के महम्मदपुर थाना क्षेत्र के अमनपुरा गांव निवासी देवराज प्रसाद के पुत्र बीरजू प्रसाद के साथ काफी धूमधाम के साथ हुई थी. उन्होंने बताया कि उपहार स्वरूप फर्नीचर, फ्रीज, वाशिंग मशीन, कूलर, मोटर साइकिल ,सोने का चैन,अंगूठी, चार सेट बर्तन, कपड़ा आदि सहित 15 लाख रुपये शादी में खर्च किया था .

उन्होंने बताया कि शादी के बाद से ही मेरी बेटी पुतुल कुमारी के ससुरालवाले दहेज में बुलेट मोटर साइकिल की मांग करने लगे. प्रताड़ित कर मारपीट करना व खाना-पानी बंद कर तरह-तरह की यातनाओं का दौर शुरु कर दिया था. इसे लेकर कई बार पंचायतें भी हुई थीं. लेकिन दहेजलोभियों ने मेरी बेटी की हत्या करके ही दम लिया.पुतली कुमारी की मौत की खबर सुनकर उसकी मां नीतू देवी,पिता ज्ञानी प्रसाद सहित भाई-बहन, फुआ सहित अन्य परिजनों की चीख-चीत्कार से पूरे गांव में कोहराम मच गया है. पुतली कुमारी के हाथों की मेंहदी का रंग अभी सूखा भी नहीं था कि दहेजलोभियों ने आखिरकार उसे मौत के घाट उतार दिया.

साथ ही, उसकी हत्या कर शव गायब कर साक्ष्य को मिटाने का घोर जुल्म किया है. ज्ञानी प्रसाद ने बताया कि रविवार को उनकी बेटी पुतुल कुमारी से मोबाइल पर उनकी व उनके अन्य सभी परिजनों से बातें हुई थीं. मोबाइल पर बात करते हुए पुतुल कुमारी काफी घबड़ाई हुई थी.उसने बताया कि दहेज में बुलेट मोटर साइकिल नहीं दीजियेगा तो ये सभी मिलकर मेरी हत्या कर देंगे. ज्ञानी प्रसाद ने बताया कि मेरी बेटी को छत से गिरकर मौत होने की सूचना उसके ससुरालवालों ने 23 जून,2020 को दी. सूचना मिलते ही वे अपने परिजनों के साथ अपनी बेटी के ससुराल पहुंचे तो उनकी बेटी का शव गायब था व उसके ससुराल वाले घर में ताला लगाकर फरार थे.