इलाज के दौरान सजावार बंदी की अस्पताल में मौत, परिजनों में आक्रोश

0
hospital me maut

परवेज अख्तर/सिवान : मंडल कारा में हत्या के मामले में बंद सजावार बंदी की मंगलवार की सुबह इलाज के दौरान सदर अस्पताल में मौत हो गई। मृत बंदी भाजपा नेता योगेंद्र सिंह का भाई सह सिसवन थाना क्षेत्र सुबही निवासी सत्येंद्र सिंह है। मामले की जानकारी मिलते ही सत्येंद्र सिंह के परिजन सदर अस्पताल पहुंचे। मौत की खबर मिलते ही मृतक के परिजन बेकाबू हो गए और अस्पताल परिसर में हंगामा करने लगे। हंगामा की सूचना मिलते ही टाउन थाना के इंस्पेक्टर सुबोध कुमार पुलिस बल के साथ सदर अस्पताल पहुंचे। थोड़ी देर बाद एएसपी कांतेश मिश्रा भी अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस ने परिजनों के समझा बुझा कर शांत कराया। इसके बाद मृतक सत्येंद्र सिंह के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। इधर मंडल कारा अधीक्षक द्वारा मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी को लिखे पत्र में बताया गया है कि सिसवन थाना क्षेत्र सुबही निवासी सजावार बंदी सतेंद्र सिंह जो सत्रवाद संख्या 425\08, धारा 302, 120बी आईपीसी और 27 आर्म्स एक्ट में न्यायालय से रिमांड होकर 21 अप्रैल को कारा आया। कारा चिकित्सक के परामर्श पर सोमवार की रात्रि में विशेष इलाज हेतु सदर अस्पताल भेजा गया। जहां चिकित्सकों द्वारा उसे मृत घोषित किया गया। वहीं मृतक के भाई योगेंद्र सिंह ने बताया कि कुछ दिन पहले इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया था, इसके बाद उन्हें पटना रेफर कर दिया गया था जहां उनका इलाज हुआ था। इलाज के दौरान दो दिन बाद ही उन्हें बुला लिया गया और जेल में रखा गया। तबीयत खराब होने पर इलाज के बोला गया तो उन्हें जेल प्रशासन द्वारा अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया। इसके बाद जब उनकी मौत हो गई तो उन्हें सदर अस्पताल भेज दिया गया। उनकी मौत साजिश के तहत हुई है। इसके बाद पुलिस द्वारा मृत्यु समीक्षा रिपोर्ट में नाक से खून गिरने का निशान था, जबकि अन्य कोई चोट नहीं पाई गई। मृतक के पुत्र व भाई ने पूर्व में रोग से ग्रसित रहने तथा यक्ष्मा रोग के कारण मृत्यु होना प्रतीत बताया है। मामले में एएसपी ने बताया कि 302 के मामले में बंदी जेल में था, बीमारी के कारण उसकी मौत हुई है, पोस्टमार्टम कराया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2