जिले में 02 लाख 69 हजार 762 मजदूरों को बना ई-श्रम कार्ड

0
  • रजिस्ट्रेशन कराते ही दो लाख रुपये दुर्घटना बीमा का होगा हकदार
  • जिले में ई-श्रम कार्ड बनाने को लेकर 1419 सीएससी कार्यरत हैं

परवेज अख्तर/सिवान: जिले में श्रमिकों का ई-श्रम कार्ड बनाया जा रहा है। विभिन्न विधा में परिपक्व श्रमिक कार्ड बनवाने में रुचि भी दिखा रहे हैं। श्रम विभाग की ओर से दी गयी जानकारी के अनुसार जिले में अबतक करीब 02 लाख 69 हजार 762 ई-श्रम कार्ड बनाए जा चुके हैं। जबकि जल्द से जल्द सबके पास कार्ड पहुंचे इसे लेकर भी कार्य भी किया जा रहा है। बताया कि ई-श्रम कार्ड बनाने के दौरान आवेदकों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े इसे लेकर कुल 1419 कॉमन सर्विस सेंटर कार्यरत हैं। जहां 18 वर्ष से 59 वर्ष का कोई भी श्रमिक अपना रजिस्ट्रेशन कराकर ई-श्रम कार्ड बनवा सकता है। इसका उद्देश्य असंगठित कामगारों का एक राष्ट्रीय डेटाबेस तैयार किया जाएगा। जिससे कल्याणकारी योजनाओं के लक्षित और अंतिम स्तर तक वितरण पर ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलेगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

कुल 11 लाख 19 हजार 459 है लक्ष्य

कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिले के करीब 11 लाख 19 हजार 459 लाभार्थियों का ई-श्रम कार्ड बनाना है। इसे लेकर करीब डेढ़ महीने से जिले के विभिन्न सीएससी केंद्रों पर श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन के बाद श्रमिक का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर के साथ ई-श्रम कार्ड भी जारी हो जाएगा। इतना ही नहीं पोर्टल पर श्रमिक के रजिस्ट्रेशन कराने के साथ ही दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा का हकदार हो जाएगा। यदि कोई कर्मचारी पोर्टल पर पंजीकृत है और दुर्घटना का शिकार होता है तो वह मृत्यु व आंशिक विकलांगता पर दो लाख रुपये के लिए पात्र होगा।

क्या कहते हैं श्रम अधीक्षक

जिला श्रम अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि ई-श्रम कार्ड बनवाते समय श्रमिक को कोई शुल्क नहीं देना है। श्रमिकों अपने नजदीकी सीएससी केंद्र पर जाकर ई-श्रम कार्ड बनवाएं और इसका लाभ उठाएं।