बिहार में 90 हजार शिक्षकों की बहाली को लेकर शिक्षा विभाग ने जारी किया शेड्यूल

0

पटना: हाईकोर्ट के आदेश के बाद बिहार में डेढ़ साल से चल रही प्राइमरी शिक्षक बहाली को लेकर एक बार फिर शेड्यूल जारी किया गया है. प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ रणजीत कुमार सिंह ने मेधा सूची को लेकर नया शेड्यूल जारी किया है. नए शेड्यूल के मुताबिक अब सभी नियोजन इकाईयों को 26 दिसम्बर तक मेधा सूची का प्रकाशन कर nic के पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश दिया गया है जबकि 28 दिसम्बर से 2 जनवरी तक मेधा सूची पर ऑनलाइन आपत्ति प्राप्त करने का भी नियोजन इकाईयों को निर्देश दिया गया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

4 से 10 जनवरी के बीच जारी होगा मेरिट लिस्ट

पत्र के मुताबिक आपत्ति के आधार पर अंतिम मेधा सूची का प्रकाशन 4 जनवरी से 10 जनवरी तक नियोजन इकाईयों को करना है उसके बाद फिर नियोजन पत्र दिया जाएगा, वहीं निदेशक ने शिक्षक नियोजन में लापरवाही बरतनेवाले नियोजन इकाईयों पर कार्रवाई करने के लिए भी सभी डीएम को पत्र लिखा है. शिक्षा विभाग ने साफ कहा है कि कई बार आदेश देने के बाद भी ज्यादातर जिलों में अब तक मेधा सूची तैयार तक नहीं किया गया है ऐसे में सभी जिलाधिकारी नियोजन इकाई का स्थानीय स्तर पर फीडबैक लें ताकि ससमय नियुक्ति पत्र देने की कार्रवाई पूरी की जा सके. इसको लेकर बतौर जिला अनुश्रवण समिति की दैनिक समीक्षा भी होगी और लापरवाही पाये जाने पर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी.

1400 से अधिक नियोजन इकाइयों ने नहीं जारी की है मेधा सूची

शिक्षा विभाग के पास मिली रिपोर्ट के मुताबिक अबतक 1400 से अधिक नियोजन इकाइयों में मेधा सूची सार्वजनिक नहीं की जा सकी है यहां तक कि सैकड़ों नियोजन इकाइयों में तो औपबंधिक सूची ही जारी नहीं हो सकी है, ऐसे में इसका असर सीधा अंतिम मेधा सूची पर पड़ रहा है और बिलम्ब हो रहा है. सुपौल, भोजपुर, रोहतास, बक्सर ,गोपालगंज, पश्चिमी चंपारण, मधेपुरा, खगड़िया, अरवल, औरंगाबाद, जहानाबाद, गया, सहरसा, भागलपुर, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, नालंदा, समस्तीपुर, अररिया, छपरा और वैशाली जिलों में ऐसी नियोजन इकाइयों की संख्या काफी है, जो अब तक मेधा सूची सार्वजनिक नहीं कर सकी है.

एक ही अभ्यर्थी ने कई जगहों पर किया है अप्लाई

जानकारी के मुताबिक़ वैशाली जिले के राघोपुर प्रखंड, जमुई जिले के सोनो प्रखंड, अररिया जिले में पलासी, कुर्सा कांटा, निर्मली प्रखंड की मंझारी पंचायत की नियोजन इकाइयां, वैशाली जिले में लालगंज प्रखंड, पश्चिमी चंपारण जिले के लौरिया, रामनगर, नरकटियागंज प्रखंड, मधुबनी जिले के हरलाखी प्रखंड की पंचायतों में मेधा सूची भी अब तक जारी नहीं की जा सकी है, वहीं लंबे समय से बहाली का इंतजार कर रहे अभ्यर्थी सरकार से मांग कर रहे हैं कि कैम्प लगाकर नियोजन पत्र जारी हो क्योंकि एक ही अभ्यर्थी 50 से 60 नियोजन इकाईयों में आवेदन किया है जिससे मारामारी की हालत बनी है.