कोरोना पर भारी पड़ीं आस्था, लगा बड़वाघाट गोड़ धोआन मेला

0

छपरा: जिले के मशरख प्रखंड क्षेत्र के अरना पंचायत के बड़वाघाट का प्रसिद्ध गोड़धोआन मेंला पर इस बार कोरोना गाइड लाइन के चलते भीड़ कम रही पर हजारों श्रद्धालुओं ने पहुंच गोर धोकर पुण्य के भागी बने।कोरोना गाइड लाइन के चलतें पुलिस प्रशासन द्वारा दिखाई गयी सक्रियता की वजह से मेला का स्वरूप मामूली रूप से ही रहा। हालांकि परंपरा के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा के अगले दिन बरवाघाट घोघारी नदी घाट पर पैर धोने की परंपरा दिन भर चलता रहा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मेला में मामूली रूप से दुकानें लगने का मलाल सबको दिनभर चर्चा में रहा। अरना पंचायत के शिक्षक नेता संतोष सिंह ने कहा कि सदियों से चला आ रहा बड़वाघाट गोड़धोआन मेला अपने वृहद स्वरूप में कोरोना गाइड लाइन की वजह नही आ पाया। हमलोगों ने प्रशासन के आदेश का पालन किया है। जानकारी हो कि “सगरो के नहान आ बरवाघाट के गोरधोआन बराबर होला” क्षेत्र में प्रचलित यह उक्त बरवाघाट के पौराणिक महता को इंगित करती है। स्थानीय ग्रामीण बताते हैं कि श्री राम ने अपने पैर यहा धोये थें।