2017 बैच का फर्जी दारोगा बनकर सिपाही और दारोगा भर्ती के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला फर्जी दारोगा गिरफ्तार

0

पटना: 2017 बैच का फर्जी दारोगा बनकर सिपाही और दारोगा भर्ती के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला फर्जी दारोगा गिरफ्तार। पुलिस ने उसके पास से पुलिस लोगो, सायरन ,हुडर लगा हुआ स्कार्पियों वाहन सहित पुलिस डंडा और हण्टर बूट सहित कई समान किये बरामद। आरोपी फर्जी दारोगा की पत्नी पंचायत समिति सदस्य तो पिता है वार्ड पार्षद।आरोपी ने अबतक जिले के पांच लोगों से 36 लाख रुपये की कर चुका है ठगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

मुंगेर जिले के लड़ैयाटांड़ थाना क्षेत्र के गोविन्दपुर के रहने वाले सुरेंद्र पासवान के 30 वर्षीय पुत्र राहुल कुमार पर फर्जी दारोगा बनकर ठगी करने का आरोप लगा है। आरोपी अपने आप को बेगुसराय में पदस्थापन 2017 बैच का दारोगा बताकर लोगों को सिपाही और दारोगा भर्ती में नॉकरी दिलाने की बात कहकर मोटी रकम की वूसली कर रहा था। वहीं इस बात की जानकारी जब मुंगेर एसपी जग्गुनाथ रैड्डी जला रैड्डी को लगी तो उन्होंने फ़ौरन इसकी जांच की जिम्मेदारी लड़ैयाटांड़ थाना प्रभारी नीरज कुमार ठाकुर को दी।वहीं जब नीरज कुमार ने इससे पूछताछ की तो इसने बताया कि हम 2017 बैच का दरोगा हैं और फ़िलहाल बेगुसराय में पोस्टेड हैं। वहीं इसके बारे में जब बेगुसराय पुलिस प्रशासन से जानकारी ली गयी तो इस नाम के किसी भी दरोगा के होने की बात सामने आयी। जिसके बाद उससे कड़ाई से पूछताछ की गई तो इसने सारी सच्चाई पुलिस को बताया।

वहीं इस मामले का खुलासा करते हुए सदर डीएसपी नंदजी प्रसाद ने बताया कि पुलिस अधीक्षक को सूचना मिली किलड़ैयाटांड़ थाना क्षेत्र के गोविन्दपुर निवासी राहुल कुमार अपने आप को दारोगा बताकर लोगों को नॉकरी देने के बहाने पैसों की वसूली का काम करता है।

वहीं सूचना के बाद जब आरोपी के घर पर पुलिस छापेमारी करने पहुँची तो इसने अपनी हनक दिखाते हुए खुद को 2017 बैच का दारोगा बताया। वहीं जब पुलिस के द्वारा पुलिस का रूल और बैचमेट के बारे में पूछा गया तो आरोपी द्वारा कुछ भी जानकारी पुलिस को नहीं दी गयी जिसके बाद शक के आधार पर आरोपी को थाना लाकर पूछताछ की गई और बेगुसराय से संपर्क किया गया तो सारी सच्चाई सामने आ गयी।डीएसपी ने बताया कि इसके घर से पुलिस ने सायरन ,लोगो , हुडर आदि लगा हुआ एक स्कार्पियों वाहन ,एक पुलिस डंडा ,हण्टर बूट और दो मोबाइल बरामद किया गया। वहीं उन्होंने बताया कि अबतक के अनुसंधान में आरोपी के द्वारा कुल पांच लोगों से 32 लाख रुपये ठगी करने की बात सामने आयी है.

जिसमे मुफ्फसिल थाना के मयदरियापुर निवासी बलजीत यादव से 16 लाख ,मनु यादव से साढ़े चार लाख ,जमुई जिला निवासी सुनील कुमार से पांच लाख ,धरहरा थाना क्षेत्र निवासी निरंजन कुमार से पांच लाख और सूरज कुमार से पांच लाख रुपये नॉकरी के नाम पर ठगी करने की बात सामने आयी है।उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा अभी और गहन पूछताछ की जा रही और जो भी बातें आगे सामने आएगी उसकी जानकारी दी जाएगी।