लॉकडाउन के डर से दूसरे राज्यों में काम करने वाले मजदूर फिर लौटने लगे बिहार

0

परवेज अख्तर:डेस्क रिपोर्टिंग:
महाराष्ट्र सहित पूरे देश में कोरोना वायरस  के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. इससे लोगों के बीच दहशत का माहौल बन रहा है. वहीं, कई राज्यों में तो नई गाइडलाइन नीति बनाई गई है. साथ ही कई शहरों में नाइट कर्फ्यू भी लग गया है. ऐसे में दूसरे राज्ये में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों का पलायन फिर से शुरू हो गया है. खासकर मुंबई और दिल्ली जैसे शहरों से मजूदरों का बिहार आने का सिलसिला शुरू हो गया है. मजदूरों के बीच इस बात का भय है कि कहीं फिर से लॉकडाउन न लग जाए. वहीं, कई राज्यों में सख्ती के साथ-साथ बिहार में स्कूल-कॉलेज भी बंद हो गए हैं. इससे दोबारा लॉकडाउन के डर से प्रवासी मजदूर बिहार लौटने लगे हैं.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

इसी तरह देहरादून में मजदूरी करने वाला एक बिहारी प्रवासी मजदूर मदन राम पूरे परिवार के साथ बस स्टैंड पहुंचे थे. तब शाम के छह बज रहे थे. उन्हें मुजफ्फरपुर जाना था. मदन राम ने बताया कि वह देहरादून में राजमिस्त्री का काम करता है. तीन बच्चों और पत्नी के साथ देहरादून में रह रहे थे. पिछले साल लॉकडाउन खत्म होने के बाद नवम्बर में देहरादून आए थे. उन्होंने कहा कि सोचा था कि अब जिन्दगी पटरी पर लौट आएगी, लेकिन जैसे ही होली का समय आया, दोबारा कोरोना संक्रमण की लहर से वे फिर से डर गए हैं. उन्हें ऐसा लग रहा है कि कहीं ऐसा न हो कि फिर से लॉकडाउन लग जाए.