मॉप-अप राउंड के माध्यम से वंचित व्यक्तियों को खिलायी जायेगी फाइलेरिया की दवा

0
  • दो चरणों में चलेगा फाइलेरिया उन्मूलन का मॉप अप राउंड
  • राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी ने दिया निर्देश
  • आशाकर्मी देंगी दवा खिलाने का प्रमाणीकरण

गोपालगंज: जिले में फाइलेरिया को नियंत्रित एवं उन्मूलन के लिए एक बार फिर से एमडीए कार्यक्रम चलाया गया। इस कार्यक्रम के दौरान चिह्नित लोगों को घर घर जाकर फाइलेरिया की दवा खिलाई जायेगी। विदित हो कि फाइलेरिया की दवा खिलाने के कार्यक्रम को अपरिहार्य कारणों से बीच में रोकना पड़ा था लेकिन मॉपअप राउंड चला कर पुन: दवा खिलाने का काम किया जाना है। राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, फाइलेरिया डॉ बिपिन कुमार सिन्हा ने पत्र जारी कर जिला वेक्टर जनित रोग पदाधिकारी को इस संबंध में आवश्यक निर्देश दिये हैं।.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

दो चरणों में चलेगा मॉप अप राउंड

जारी पत्र में निर्देश दिया गया है कि 29 अक्टूबर से 2 नवंबर तक मॉप अप राउंड का प्रथम चरण चलाया जाये एवं दीपावली एवं छठ पूजा के उपरांत 15 नवंबर से लेकर 20 नवंबर तक दूसरे मॉपअप राउंड के जरिये छूटे हुए क्षेत्रों में पुनः भ्रमण कर सभी छूटे हुए लाभुकों को दवा खिलाना सुनिश्चित किया जाये। फैमिली रजिस्टर में छूटी हुई प्रविष्टियों को इसी समय सीमा में पूर्ण कर ली जाये।

आशा कर्मी देंगी दवा खिलाने का प्रमाणीकरण

पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि आशा दलकर्मी द्वारा इस बात का प्रमाणीकरण किया जाये कि सभी योग्य लाभुकों को एमडीए की दवा खिला दी गयी है। यह प्रमाणित कराने के उपरांत ही आशा कर्मियों के मानदेय का भुगतान किया जाये। साथ ही कार्यक्रम का संकलित प्रतिवेदन राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी कार्यालय में 25 नवंबर तक अवश्य प्रेषित कर दिया जाये।

दवा सेवन फाइलेरिया से सुरक्षा का मार्ग

इस निर्देश के आलोक में जिलान्तर्गत सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को मॉपअप कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी गयी है। उन्होंने बताया कि फाइलेरिया मुक्त जिला बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को आम जन के सहयोग की जरूरत है। मॉपअप राउंड के दौरान सभी छूटे लाभार्थी आगे आकर दवा खाएं और फाइलेरिया उन्मूलन में अपना सहयोग दें ।