नाकामी छुपाने के लिए जेई पर दर्ज कराई एफआईआर

0
FIR

परवेज़ अख्तर/सिवान:- जिले के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के मिर्जापुर गांव में बिजली करंट से हुए हादसे मामले में जेई पर दर्ज एफआईआर के खिलाफ जिले के सभी बिजली अभियंता मंगलवार को डीएम से मिलकर दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की। अभियंताओं ने कहा कि द्वेष भावना के तहत रघुनाथपुर जेई दर्शन कुमार पर एफआईआर दर्ज करायी गई है। अभियंताओं ने कहा कि मिर्जापुर में मूर्ति विसर्जन की किसी भी तरह की सूचना पुलिस प्रशासन व पब्लिक द्वारा जेई व पीएसएस को नहीं दी गई थी। अभियंताओं ने कहा कि थानाध्यक्ष द्वारा 10 अक्टूबर को जेई के नाम से पत्र दिया गया। पत्र 08 अक्टूबर को जारी किया गया था। पत्र में 15 अक्टूबर तक सुबह दस बजे से रात 12 बजे तक बिजली बाधित करने को कहा गया था। स्थानीय बीडीओ द्वारा भी घटना के अगले दिन पत्र दिया गया। एफआईआर में राजपुर पूजा समिति का जिक्र किया गया है। राजपुर पूजा समिति से प्राप्त आवेदन पर एक लाइनमैन की ड्यूटी लगा दी गयी थी। आरोप लगाया गया कि थानाध्यक्ष भली-भांति जानते थे कि राजपुर पूजा समिति का मिर्जापुर की घटना से कोई संबंध नहीं है। बावजूद उनके द्वारा इस पत्र को आधार बनाकर पीड़िता से आवेदन लेकर जेई पर एफआईआर दर्ज करायी गयी। आवेदन देने वालों में कार्यपालक अभियंता विक्की कुमार, एसडीओ शिवम कुमार, अभय मौर्य, शकील अहमद, राजीव कुमार, जेई शशिभूषण कुमार, नागेन्द्र कुमार, आफताब आलम, पंकज कुमार, अविनाश कुमार, दीपक कुमार, विनोद कुमार व राजीव कुमार शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal