श्यामपुर बाजार में अपराधी को पीट -पीट कर मौत के घाट उतारने मामले में दर्ज हुई प्राथमिकी

0

पुलिस ने दर्ज की तीन अलग-अलग प्राथमिकी,

पुलिस खाली हाथ, अनुसंधान जारी

मृत अपराधी गोपालगंज जिले का था कुख्यात

परवेज़ अख्तर/सिवान :- जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के श्यामपुर बाजार स्थित नन्हें ज्वलेर्स एवं बर्तन भंडार में आठ जुलाई को सवा दो बजे दिन में लूट एवं गोली बारी को लेकर स्थानीय थाने में तीन अलग-अलग प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं। हालांकि इस मामले में पुलिस के हाथ अभी पूरी तरह से खाली हैं। वही इस मामले में मंगलवार को दूसरे घटना के प्रेस कॉफ्रेंस में एसपी नवीन चन्द्र झा ने बताया कि सभी अपराधियों की पहचान हो गई है। जल्द ही सभी की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। वहीं गोली बारी में घायल व्यवसायी आंदर थाना क्षेत्र के बलइपुर पकवलिया निवासी अजय कुमार वर्मा के पुत्र त्रिलोकी नाथ शर्मा ने प्राथमिकी दर्ज कराकर पुलिस को बताया कि अपनी ज्वेलर्स की दुकान पर मैं अपने पिता के साथ बैठा था तभी एक बाइक पर सवार होकर गोपालगंज जिले के मीरगंज थाना क्षेत्र के सादिक चक निवासी प्रकाश पांडेय एवं संदीप पांडेय आए तथा सोने की अंगूठी एवं चेन मांगने लगे। मेरे पिता लॉकर खोल रहे थे तभी चार अपराधी दुकान में घुस गए तथा एक अपराधी जो बढ़ेया निवासी सचिन सिंह ने मुझे पिस्टल सटा दिया तथा अपराधी प्रकाश पांडेय मेरे पिता पर पिस्टल भिड़ा दिया और सभी अपराधी मिलकर दुकान में रखे सोने-चांदी के गहन एवं 15 हजार रुपये नकद लूट कर भागने ले। तभी मेरे पिता दुकान से निकलकर चिल्लाने लगे तो अपराधी प्रकाश पांडेय ने मेरे पिताजी को गोली मार दिया। इस मामले में पुलिस ने डकैती एवं आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज की है। इस घटना को लेकर मुफ्फसिल थानाध्यक्ष अभिजीत कुमार ने आर्म्स एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की है जिसमें कहा गया है कि घटना की जानकारी टेलीफोन के द्वारा हुई। पुलिस बल के साथ पहुंचने पर एक अपराधी प्रकाश पांडेय को कमर में कसा हुआ पिस्टल के साथ गिरफ्तार किया गया एवं एक अपराधी सचिन सिंह मृत पाया गया। वह इस मामले में तीसरी प्राथमिकी स्थानीय चौकीदार अमरजीत मांझी ने भीड़ द्वारा पीट पीट कर एक अपराधी की मौत के घाट उतार देने से सम्बंधित मामले को लेकर भादवि की धारा 147, 149, 323, 308 एवं 304 के तहत प्राथमिकी दर्ज कराकर इलाके के विभिन्न गांवों से आए अज्ञात लोगों की उग्र भीड़ एवं राहगीरों को अभियुक्त बनाया है।बतादें की उग्र भीड़ ने दूसरे अपराधी को पीट -पीट कर गम्भीर रूप से जख्मी कर दिया गया है।जिसका इलाज पटना में चल रहा है।पुलिस तीन अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज के बाद गहराई पूर्वक अपनी अनुसंधान तेज कर दी है हालांकि इस मामले में पुलिस फरार अपराधियों व अपराधियों के मौत के घाट उतारने वाले उग्र भीड़ के गिरेबान तक नही पहुँची है।पुलिस का दावा है की इस मामले में जल्द ही सफलता हाथ लगेगी।बतादें की अपराधी की पीट पीट कर हुई हत्या मामले में पुलिस लोगों द्वारा मोबाइल से बनाये गए बिडिओ फुटेज का सहारा ले रही है।इसके अलावा पुलिस कई तरकीब भी अपना रही है ताकि हत्या में शामिल लोगों की पहचान की जा सके।पुलिस ने कानून को अपने हाथ में लिए जाने से सम्बंधित सुसंगत धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कर अपनी जाँच तेज कर दी है।इस सम्बंध में थाना प्रभारी अभिजीत कुमार ने बताया की तीन अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज के बाद आगे की कारवाई वरीय पुलिस पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में की जायेगी।गहराई पूर्वक अनुसंधान जारी है।

apradhi in siwan