अपराध की योजना बनाते दो आरोपी समेत पांच धराए

0
giraftar

परवेज अख्तर/सीवान:- जिले के सदर प्रखंड के टड़वा में गुप्त सूचना के आधार पर स्टार पब्लिक स्कूल से सटे बाइपास में अपराध की योजना बनाते दो आरोपित समेत पांच को पुलिस ने शुक्रवार की सुबह गिरफ्तार किया है। इनके पास से दो देसी कट्टा, चार गोली व काले रंग की एक पल्सर बाइक बरामद की गई है। एसपी नवीनचंद्र झा ने बताया कि महाराजगंज थाना क्षेत्र के माधोपुर के अमित कुमार उर्फ नितेश व लकड़ी नबीगंज के नबीगंज के पंकज कुमार राय की आर्म्स एक्ट में संलिप्तता है। सिविल कोर्ट में किशोर न्याय परिषद के प्रिसिंपल मजिस्ट्रेट अरबिन्द कुमार के कार्यालय, प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट एके त्रिपाठी व हिना मुस्तफा के इजलास में बुधवार की रात हुई चोरी में एनडीपीएस एक्ट के तहत तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार करने की भी जानकारी एसपी ने दी। बताया कि तीनों को सिविल कोर्ट परिसर के पश्चिम दाहा नदी के किनारे से शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है। मुफस्सिल थाना क्षेत्र के खालिसपुर के गुलाम अली, शहर के ललित बस स्टैंड के रंजन कुमार सिंह व महादेवा ओपी के शहाबु अली की पूर्व में भी चोरी के मामले मे संलिप्तता उजागर हुई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

अभियुक्तों का आपराधिक रिकॉर्ड

अपराध की योजना बनाते गिरफ्तार अमित कुमार उर्फ नितेश व लकड़ी नबीगंज के नबीगंज के पंकज कुमार राय का पूर्व से आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। इन पर मुफस्सिल थाना के अलावा बसंतपुर थाने में मामला दर्ज है। वहीं गुलाम अली, रंजन कुमार सिंह व शहाबु अली पर मुफस्सिल थाना, धनौती ओपी, महादेवा ओपी में अन्य मामले के अलावा उत्पाद अधिनियम के तहत मामला दर्ज है। एसपी ने बताया कि इन अभियुक्तों की गिरफ्तारी विशेष छापेमारी दल गठित कर की गई। टीम में जीबीनगर थानाध्यक्ष अनिरुद्ध प्रसाद, मुफस्सिल थानाध्यक्ष धर्मेन्द्र कुमार, महादेवा ओपी अध्यक्ष पंकज कुमार ठाकुर, एसआईटी सीवान के प्रभारी योगेन्द्र प्रसाद व मुफस्सिल थाने के जमादार प्रमोद दास ने गिरफ्तार किया।

होमगार्ड के चार जवान निलंबित

सिविल कोर्ट में न्यायिक दंडाधिकारियों के कार्यालय में हुई चोरी की घटना को एसपी ने गंभीरता से लिया है। रात्रि सेवा के दौरान ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड के चार जवानों को इस मामले में छह महीने के लिए निलंबित कर दिया गया है। एसपी नवीनचंद्र झा ने बताया कि छह महीने के लिए इन्हें ड्यूटी नहीं दी जायेगी। व्यवहार न्यायालय, जिला जज व सीजेएम कोर्ट की सुरक्षा में बीएमपी, होमगार्ड व डीएपी के 25 जवान ड्यूटी पर तैनात रहते हैं। बताया कि सिविल कोर्ट के मुख्य गेट पर ड्यूटी में तैनात गार्ड के लिए जगह नहीं है। लिहाजा बारिश के दौरान पानी से बचने के लिए कोर्ट परिसर में उन्हें छिपना पड़ता है। इसे देखते हुए गेट पर संतरी पोस्ट बनाने का प्रस्ताव दिया गया है, स्वीकृति मिलते ही इसे अंतिम रूप दिया जायेगा।