सिवान में डकैती का विरोध करने पर पांच को मारी गोली

0

50 हजार नकद सहित ढाई लाख की संपत्ति ले गए डकैत

सदर अस्पताल में चल रहा इलाज, घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल

परवेज़ अख्तर/सीवान:- सिवान के एमएच नगर थाना क्षेत्र के गोपी पतियांव में गुरुवार की रात हथियार से लैस एक दर्जन डकैतों ने एक घर में भीषण डकैती की घटना को अंजाम देते हुए 50 हजार नकद सहित ढाई लाख से अधिक की संपत्ति लूट ली। डकैती की सूचना मिलते ही जब गांव वालों ने डकैतों को पकड़ने की कोशिश की तो डकैतों ने फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें पांच ग्रामीण डकैतों की गोली का शिकार होकर घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज शुक्रवार की सुबह में चिकित्सकों द्वारा किया गया। इधर घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस गांव में पहुंची और स्थिति का जायजा लिया। डकैतों की गोली से घायल होने वालों में सूरज कुमार, मुन्ना सिंह, ढोढ़ा मांझी, गोपाल राम और महात्मा सिंह शामिल हैं।घायलों को पैर, शरीर के अन्य हिस्सों में तथा कुछ घायलों को पैर में भी गोली लगी है। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने सदर अस्पताल में घायलों के फर्द बयान पर अपनी जांच शुरू कर दी है। बताया जाता है कि गोपी पतियांव गांव में रामाशंकर सिंह के मकान गुरुवार की रात साढ़े ग्यारह बजे एक दर्जन डकैत डकैती करने के लिए आ रहे थे। डकैती से पूर्व ही मकान के पीछे के खेत में एक डकैत को बिच्छू ने डंक मार दिया। तभी खेत में निगरानी के लिए सोए मकान मालिक के भाई कृष्णानंद सिंह को डकैतों ने जगा कर डंक की झाड़ फूंक कराई। इसके बाद डकैतों ने कृष्णानंद को बंधक बनाते हुए घर के दो अन्य सदस्यों को बंधक बनाते हुए एक कमरे में बंद कर दिया और घर में प्रवेश कर गए। इसके बाद घर के बंद पड़े कमरों के दरवाजों को तोड़कर ढाई लाख के जेवर तथा 50 हजार नकदी रुपये की डकैती की। डकैती को देख मकान की छत पर सोए मकान मालिक रामाशंकर सिंह पटेल ने डकैतों के खिलाफ आवाज लगाकर शोर मचाया। शोर सुनकर जब वहां आसपास के ग्रामीण पहुंचे तो अपने को घिरता देख डकैतों ने फायरिंग कर दी। इसमें गांव के मनु सिंह, सूरज राम, ढोढ़ा मांझी, गोपाल राम, महातम सिंह पटेल घायल हो गए। फायरिंग की आवाज सुनकर लोग सहम गए और अपने घर में छिप गए। जिसके बाद डकैत आसानी से फरार हो गए। घटना की सूचना पर एमएच नगर तथा आंदर की पुलिस जांच पड़ताल में जुटी गई।