फॉलोअप: बाबर हत्याकांड में पुलिस का हाथ खाली, नहीं हुई गिरफ्तारी

0
  • अब तक हत्या के कारण का भी पता नही लगा सकी पुलिस
  • दिनदहाड़े बीते सप्ताह बाबर को मारी गयी थी चार गोलियां

परवेज अख्तर (संवाददाता), सिवान: सराय ओपी क्षेत्र के चमड़ा मंडी रोड स्थित जरती माई के समीप हुई बाबर अली हत्याकांड पुलिस के हाथ अभी भी खाली है और अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं. बताते चलें कि बीते 15 मई की दोपहर मुफ़स्सिल थाना क्षेत्र के बदरुद्दीनपुर निवासी अब्दुल रजाक के पुत्र बाबर अली नामक युवक को अपराधियों ने चार गोली मार कर हत्या कर दिया था. जिसके बाद मृतक बाबर अली के बड़े भाई डॉ०चिराग ने अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराया था. लेकिन हत्या के दस दिन बाद भी स्थानीय पुलिस और एसआईटी की टीम ने हत्या में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी और ना ही हत्या का खुलासा कर सकी है? इधर हत्या के बाद मृतक के परिवार दहशत के माहौल में जी रहा है. शाम होती हैं उन्हें यह भय लगने लग रही है कि आखिर जिसने बाबर की हत्या की थी उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई कहीं कुछ और ना हो जाए .

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी हुई है कहीं पुलिस को या₹ह तो तलाश नहीं कि गुप्त सूचना मिलने पर अपराधियों की गिरफ्तारी की जाएगी. ऐसी कई चर्चाएं रोगों में हो रही है. क्योंकि बाबर की जिस वक्त हत्या की गई थी लॉक डाउन का समय चल रहा था और पूरा शहर सुनसान सन्नाटा पसरा हुआ था. यदि एक चिड़िया भी सड़कों पर नजर आए तो लोग देख लेंगे. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ अपराधी आए और बाबर की हत्या किए फिर आराम से चलते बने. इधर मृतक के परिजन आरोपियों के गिरफ्तारी के इंतजार कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ मुफस्सिल थाना अंतर्गत खालिसपुर के समीप रिटायर्ड आर्मी जवान कमल यादव से हुई गोलीबारी मामले में भी पुलिस अब तक अपराधियों तक नहीं पहुंच सकी है. लोगों में यह चर्चा बनी हुई है कि कहीं अपराधी दूसरे क्षेत्र के तो नहीं है क्योंकि पुलिस गुप्तचर भी अब तक खामोश बैठे हैं.