सिवान में पूर्व प्रमुख के भतीजे को गोलियों से भूना, मौत

0

परवेज अख्तर/सिवान :- सिवान के गुठनी थाना क्षेत्र के भलुआं गांव में रविवार की दोपहर हथियार अपराधियों ने दिनदहाड़े स्कूल में घुसकर विद्यालय के संचालक सह राजद के पूर्व प्रमुख के भतीजे जतौर गांव निवासी संदीप सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। अपराधियों ने संदीप सिंह के सिर में एक के बाद एक तीन गोलियां मारी और घटना को अंजाम देने के बाद आसानी से फरार हो गए। वहीं घटना को इतनी सुनियोजित तरीके से अंजाम दिया गया कि आस पास के लोगों को भी इसकी भनक तक नहीं लगी। हत्या के लगभग दो घंटे बाद कोचिंग के लिए आए छात्रों ने चौकी पर संदीप सिंह को मृत देख शोर मचाया इसके बाद आसपास के लोगों को घटना की जानकारी हुई। देखते ही देखते थोड़े ही देर में यह खबर जंगल में आग की तरह फैल गई। मृतक संदीप सिंह राम-लक्ष्मण पब्लिक स्कूल का संचालक था जिसमें वर्ग नर्सरी से आठवीं तक पढ़ाई होती है। इधर घटना की सूचना मिलते ही मृतक के परिजन मौके पर पहुंचे और शव को देख फफक कर रोने लगे। जबकि सूचना पर स्थानीय पुलिस के साथ मैरवा थानाध्यक्ष, मैरवा इंस्पेक्टर भी दल बल सहित मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल में जुट गए। घटना स्थल से पुलिस ने दो खोखा बरामद किया था। पुलिस ने जैसे ही शव को कब्जे में लेने की कोशिश की स्थिति तनावपूर्ण हो गई। परिजन घटना स्थल पर वरीय अधिकारी को बुलाने की मांग पर अड़े थे। खबर प्रेषण तक शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल नहीं लाया गया था। बताते चले कि अपराधियों ने जिस जगह घटना को अंजाम दिया है वहां से मृतक का घर 1 किलोमीटर की दूरी पर था। जबकि मृतक के चाचा अवध बिहार सिंह राजद से पूर्व प्रमुख थे। घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव है। पुलिस का कैंप जारी था।

सिर में सटा कर मारी गई संदीप को गोली

गुठनी थाना क्षेत्र के भलुआ स्थित एक निजी स्कूल में जिस व्यक्ति की हत्या की गई उस मामले में पुलिस ने एक गोली का खोखा जब्त किया है। मामले में एसपी नवीन चंद्र झा ने बताया कि फिलहाल इस मामले में परिजन द्वारा कोई भी आवेदन नहीं दिया गया है। मृतक के शव को देखकर ऐसा लग रहा है कि उसे अपराधियों ने सिर में सटा कर गोली मारी है और ऐसा प्रतीत हो रहा है कि घटना को अंजाम देने वाले मृतक के बारे में सारी बातें जानते थे क्योंकि घटना को कब अंजाम दिया गया है इसकी भनक किसी को नहीं लगी है। वहीं एसपी ने बताया कि डॉग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंच गई है। जांच के बाद जैसे ही आवेदन मिलेगा आगे की कार्रवाई की जाएगी। अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है।

संदीप की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

जतौर निवासी संदीप सिंह के भलुआ स्थित विद्यालय में हत्या के बाद परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। मृतक की पत्नी रिंकी देवी का तो और भी बुरा हाल है। लगभग पांच छह वर्ष पूर्व रिंकी और संदीप का विवाह हुआ था। विवाह के बाद अभी तक कोई संतान नहीं था। अपने भाई में सबसे बड़े संदीप विद्यालय चलाकर जीवन यापन करता था। संदीप की पत्नी रिंकी देवी रोते-रोते बेहोश हो जा रही है और एक ही बात कहती है कि अब मेरी जिंदगी का क्या होगा। वहीं आसपास की महिलाएं उसे सांत्वना दे रही थी। परिजनों के चीत्कार से पूरा गमगीन हो गया है।

हत्या के बाद शोक में डूबा पूरा गुठनी

जतौर निवासी संदीप की हत्या के बाद पूरे गुठनी में शोक का लहर कायम हो गया है। चारो तरफ यही चर्चा चल रहा है। चारों ओर लोगों के मुंह से यही बात निकल रही है कि इतने अच्छे व्यक्ति की हत्या किसने कर दी। दोपहर से शाम तक लोगों का हुजूम जमा रहा। देर शाम तक एएसपी भी परिजनों से बात करते रहे, लेकिन परिजन डॉग स्क्वायड बुलाने और एसपी को बुलाने की बात पर अड़े रहे।